CID Officer Kaise Bane – सीआईडी कैसे बनते हैं योग्यता, भर्ती, हाईट और सैलरी

Date:

इस आर्टिकल में CID Officer Kaise Bane – सीआईडी कैसे बनें योग्यता, भर्ती, हाईट (CID Officer Kaise Bane – How to become CID, Qualification, Recruitment, Height.) के बारे में जानकारी बताई गई है। ताकि आपको सीआईडी ऑफिसर कैसे बनते हैं, सीआईडी ऑफिसर बनने के लिए योग्यता, हाईट, आयु सीमा, सैलरी के बारे में सही इनफॉरमेशन पता चल सके।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

हम सब TV Channel में C.I.D देखते रहते हैं और सीआइडी पुलिस बल का की दूसरा रूप होता है। सीआईडी ऑफिसर बनना आज के युवाओं के लिए बहुत बडी बात है क्योंकि यह एक बहुत ही अच्छा और सम्मान वाला पद होता है। इतना सब जान कर बाद आपके दिमाग में एक प्रश्न जरुर आता होगा कि आखिर CID Officer Kaise Bane या CID Officer Kaise Bante Hai? पुलिस बल का ही दूसरा रूप सीआइडी ऑफिसर का होता है। CID पुलिस विभाग की सबसे मुख्य एजेंसी होती हैं। सीआइडी ऑफिसर बहुत अधिक मेहनती एवं संवेदनशील होते हैं। गंभीर अपराधों की जाँच (विवेचना) गुप्त तरीके से होती है।

दोस्तों! CID Officer Kaise Kaun/Kya Hota Hai? तो बता दें कि सीआइडी भारतसरकार की मुख्य जाँच एजेंसी होती है। हमारे देश में घटने वाले सभी गंभीर अपराधों का जाँच करती है जैसे कि रेप, मर्डर, डकैती कि संवेदनशील तरीके से गोपनीयता से जाँच करती है। सीआईडी गुप्त तरीके सेCID अपराध है मुख्य अपराधी को खोज निकालती है। वर्त्तमान समय में ज्यादातर विद्यार्थी CID में अपना भविष्य बनाना चाहते हैं।

CID का फुल फॉर्म होता है Crime Investigation Departmentसीआईडी को हिंदी भाषा में “अपराध जांच विभाग” भी कहते हैं। सीआइडी ऑफिसर कभी भी विशेष वर्दी धारण नहीं करते हैं वो सिर्फ एक आम आदमी की की तरह सिंपल कपड़े पहनते हैं ताकि उनको कोइ जांच – पड़ताल के दौरान पहचान नहीं सके और आसानी से अपराधी तक पहुंच जाए और उसे पकड़कर सजा दिलवाए।

चलिए अब हम आपको सीआईडी {CID} ऑफिसर कैसे बने? सीआइडी का फुल फार्म, योग्यता, परीक्षा का पाठ्यक्रम, सैलरी  आदि के बारे में सही जानकारी शुरु करते हैं।

Table of Contents

सीआइडी क्या है और इसका इतिहास। What is CID and its History in Hindi

सीआइडी (CID) का पूरा नाम “सेंट्रल इंटेलिजेंस डिपार्टमेंट” होता है। यह एक प्रमुख जासूसी और सुरक्षा एजेंसी होती है जो भारत सरकार के अंतर्गत काम करती है। सीआइडी का मुख्य कार्य गुप्त जानकारी और राष्ट्रीय सुरक्षा सम्बन्धी कार्यों की जांच, गणना और संग्रहण करना होता है। यह आपराधिक मामलों, जासूसी और सुरक्षा के कई पहलुओं का प्रबंधन भी करता है।

सीआइडी (CID) की स्थापना भारत में क़ानून और व्यवस्था बनाने के लिए ब्रिटिश सरकार द्वारा सन 1902 में की गई थी। CID Officer की पूरी टीम राज्य की सरकारों के आदेश पर काम करती है। इस विभाग के प्रमुख के पद पर (ADGP) Additional Director General of Police कार्य करते है। जिसे हम Inspector General of Police (IGP) द्वारा हेल्प प्रदाय की जाती है।

सन 1902 में सीआईडी (CID) की स्थापना होने के बाद सन 1920 मे सीआईडी को Special Branch एवं Crime Branch में  बाँट दिया गया था। जिसके बाद CID OFFICER को हत्या के प्रकरण, धोखाधड़ी गंभीर असॉल्ट केस, डकैतियों एवं किसी भी यौन अपराध जैसे गंभीर अपराधो की जांच करने की जिम्मेदारी सौंपी जाती है। सीआईडी ऑफिसर (Cid officer) अपराधी को सबूत के साथ पकड़ते है और अदालत में पेश करते है।

सीआइडी ऑफिसर कौन होते हैं?

भारत में सीआईडी (CID) ऑफिसर्स विभागीय पुलिस अधिकारी होते हैं, जो सेंट्रल इंटेलिजेंस डिपार्टमेंट (CID) में काम करते हैं। इन ऑफिसर्स का मुख्य कार्य गुप्त जानकारी का संग्रहण, जासूसी गतिविधियों का प्रबंधन, और राष्ट्रीय सुरक्षा के कार्यों में सहायता करना होता है।

CID ऑफिसर्स की परिभाषा भारतीय पुलिस सेवा (IPS – Indian Police Service) के अंतर्गत आती है, जो सरकारी प्रमाण पत्र और अधिकारों के साथ काम करते हैं। इन अधिकारियों के पास विशेष ज्ञान और प्रशासनिक कौशल होते हैं, जिन्हें वे गुप्तचर कार्यों में और आपराधिक जांच के कार्यों में उपयोग करते हैं।

CID ऑफिसर्स के द्वारा की जाने वाली गतिविधियों में जासूसी, सुरक्षा कार्य, साइबर सुरक्षा, और आपराधिक मामलों की जांच शामिल हो सकती हैं। इन ऑफिसर्स का काम सामाजिक सुरक्षा और राष्ट्रीय सुरक्षा को सुनिश्चित करना होता है, और वे अक्सर संविदानिक और अप्राधिक विशेषाधिकारों के साथ काम करते हैं।

सीआईडी का फुल फॉर्म हिंदी और इंग्लिश में

सीआईडी का फुल फॉर्म हिंदी में “सेंट्रल इंटेलिजेंस डिपार्टमेंट” होता है, और इसका अंग्रेजी में फुल फॉर्म “Central Intelligence Department” होता है।

सीआइडी ऑफिसर कैसे बनें ? – C.I.D Officer Kaise Bane

सीआइडी ऑफिसर बनने के लिए योग्यता

सीआइडी (CID) ऑफिसर बनने के लिए निम्नलिखित योग्यताएं आवश्यक होती हैं:

  • IPS परीक्षा की पात्रता — सीआइडी ऑफिसर बनने के लिए पहला और महत्वपूर्ण कदम है IPS (Indian Police Service) परीक्षा को पास करना। इसके लिए आपको UPSC (Union Public Service Commission) द्वारा आयोजित सिविल सेवा परीक्षा को उत्तीर्ण करना होगा।
  • नागरिकता — आपको भारतीय नागरिक होना आवश्यक है।
  • आयु सीमा — IPS परीक्षा के लिए आयु सीमा वर्ग के हिसाब से आवश्यक होती है, लेकिन सामान्यत: 21 से 32 वर्ष के बीच होनी चाहिए। आयु में छूट स्थानीय नियमों के आधार पर दी जा सकती है।
  • शिक्षा: सीआइडी ऑफिसर बनने के लिए आपके पास कम से कम स्नातक की डिग्री होनी चाहिए।
  • फिजिकल योग्यता — पुलिस सेवा में काम करने के लिए फिजिकल योग्यता आवश्यक होती है, इसलिए आपको शारीरिक रूप से स्वस्थ और योग्य होना चाहिए।
  • आदर्श चरित्र — आपका आदर्श चरित्र और सजीव नागरिकता होना आवश्यक है। यह सुनिश्चित करने के लिए आपको अच्छे आदर्शों और नैतिकता के साथ अपने कार्यों को आगे बढ़ाना होगा।
  • कठिनाइयों का सामना करने की क्षमता — CID ऑफिसर का काम आपराधिक जांच और सुरक्षा से जुड़ा होता है, इसलिए आपको कठिनाइयों का सामना करने और निर्णय लेने की क्षमता होनी चाहिए।
  • सशस्त्र बल में प्रशिक्षण — सीआइडी ऑफिसर के रूप में पदस्थित होने पर आपको सशस्त्र बलों के विशेष प्रशिक्षण का भी हिस्सा बनना सकता है.

सीआईडी ऑफिसर बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता

सीआइडी (CID) ऑफिसर बनने के लिए शैक्षिक योग्यता के रूप में एक स्नातक (ग्रेजुएशन) डिग्री की आवश्यकता होती है। यह डिग्री किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से होनी चाहिए।

वैसे तो, ज्यादातर CID ऑफिसर्स आधी से अधिक शिक्षा प्राप्त करने वाले होते हैं, और कई लोग स्नातक के बाद मास्टर्स डिग्री भी प्राप्त करते हैं। यह उनके शैक्षिक प्रायोगिकता और प्रोफेशनल विकास को बढ़ाने में मदद कर सकता है।

सीआइडी ऑफिसर बनने के लिए शिक्षा केवल एक हिस्सा होती है, और उन्हें विशेष आदर्श, चरित्र, और शारीरिक योग्यता के साथ आगे बढ़ने के लिए तैयार भी होना चाहिए। आदर्श चरित्र और नैतिकता सभी पुलिस ऑफिसर्स के लिए महत्वपूर्ण होती है, क्योंकि वे समाज की सुरक्षा और न्याय के स्तर पर काम करते हैं।

शारीरिक योग्यता हाईट, आयु , फिजिकल फिटनेस आदि

सीआइडी (CID) ऑफिसर बनने के लिए शारीरिक योग्यता के कुछ महत्वपूर्ण पैरामीटर्स जैसे कि ऊंचाई, आयु, और फिजिकल फिटनेस की मांग होती है:

  • ऊंचाई — अक्सर पुलिस सेवा के विभिन्न पदों के लिए ऊंचाई की मांग होती है, लेकिन CID ऑफिसर के लिए विशेष ऊंचाई की मांग नहीं होती है। आपको आमतौर पर कम से कम 165 सेमीटर (5 फीट 5 इंच) की ऊंचाई होनी चाहिए, लेकिन यह नियम स्थानीय पुलिस सेवा की नियमों पर निर्भर कर सकता है।
  • आयु — IPS परीक्षा की आयु सीमा वर्ग के हिसाब से होती है, लेकिन सामान्यत: 21 से 32 वर्ष के बीच होनी चाहिए। आयु में छूट स्थानीय नियमों के आधार पर दी जा सकती है।
  • फिजिकल फिटनेस — शारीरिक योग्यता और फिटनेस का होना महत्वपूर्ण है। आपको शारीरिक कसरत करनी चाहिए, ताकि आप फिजिकल टेस्टों को पार कर सकें।

यदि आप IPS परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं, तो आपको उपयुक्त ऊंचाई और फिजिकल योग्यता की तैयारी करने की सलाह दी जा सकती है, ताकि आप परीक्षा के फिजिकल प्रश्नों का समर्थन कर सकें। इसके अलावा, आपको सशस्त्र बलों के प्रशिक्षण के दौरान भी अच्छी फिटनेस बनाए रखने की सलाह दी जा सकती है, क्योंकि यह आपके करियर के दौरान फायदेमंद हो सकता है।

Related … पटवारी कैसे बनें? – Patwari Kaise Bane (भर्ती प्रक्रिया, सैलरी, योग्यता)

सीआईडी ऑफिसर की सैलरी । CID officer salary in Hindi

सीआइडी (CID) ऑफिसर की सैलरी भारतीय पुलिस सेवा (IPS) के तहत आती है, और यह सैलरी स्तरों और सरकारी नियमों के आधार पर विभिन्न हो सकती है। इसके बावजूद, आमतौर पर IPS अधिकारियों की सैलरी निम्नलिखित तरह होती है:

  • आईएएस (Junior Scale): यह ग्रेड IPS की प्रारंभिक स्तर होता है, और सैलरी नौकरी के प्रारंभिक साल में लगभग ₹56,100/- से ₹1,77,500/- के बीच हो सकती है।
  • आईएएस (Senior Scale): इस ग्रेड में सैलरी लगभग ₹67,700/- से ₹2,08,700/- के बीच हो सकती है, आपके प्रशासनिक और पुलिस कार्यों के आधार पर।
  • सुपरटाइम स्केल (Super Time Scale): यह ग्रेड और उच्च अधिकारियों के लिए होता है, और सैलरी इसमें और बढ़ सकती है, लेकिन यह नियमों और अनुशासन के तहत बढ़ती है।
  • अपेक्षित स्केल (Expected Scale): इस ग्रेड में सैलरी काफी बड़ी हो सकती है, और यह सरकार के नीतिगत निर्णयों और अन्य आधारों पर निर्भर करती है।

इसके अलावा, सीआइडी ऑफिसर्स को विभिन्न प्रकार के भत्तों और लाभों का आनंद भी मिल सकता है, जो उनके करियर और कार्यक्षेत्र के आधार पर भिन्न हो सकते हैं। साथ ही, सरकारी सैलरी नियमों में बदलाव भी समय-समय पर किया जा सकता है।

Related…. SDM कैसे बने? एसडीएम के कार्य, सैलरी, भर्ती प्रक्रिया, अधिकार – SDM in Hindi

सीआईडी ऑफिसर के काम – CID officer’s work in Hindi

सीआइडी (CID) ऑफिसर के काम विभिन्न होते हैं और उनका मुख्य उद्देश्य अपराधिक जांच और सुरक्षा सुनिश्चित करना होता है। उनके काम कुछ इस प्रकार होते हैं:

  • अपराधिक जांच — CID ऑफिसर्स का मुख्य कार्य अपराधिक जांच करना होता है। वे गंभीर अपराधों और जासूसी मामलों की जांच करते हैं और आपराधिक गतिविधियों के पीछे के कारणों को खोजने में मदद करते हैं।
  • सुरक्षा उपाय और गवर्नमेंट सुरक्षा — CID ऑफिसर्स देश की सुरक्षा को सुनिश्चित करने में मदद करते हैं। वे आपराधिक संगठनों और गतिविधियों को रोकने और सुरक्षित रखने के उपाय डिज़ाइन करते हैं।
  • जासूसी — CID ऑफिसर्स जासूसी कार्यों के लिए भी प्रशिक्षित हो सकते हैं। वे राष्ट्रीय सुरक्षा और गुप्तचर गतिविधियों को मॉनिटर करते हैं और सुचना जुटाते हैं।
  • संगठना और प्रशासनिक काम — CID ऑफिसर्स का काम संगठनिक और प्रशासनिक भी होता है। वे अपने टीम का प्रशासन करते हैं, अपराधिक मामलों की जांच के लिए संगठनिक प्रक्रियाओं का पालन करते हैं, और सुरक्षा योजनाओं की योजना बनाते हैं।
  • मानवाधिकार की सुनवाई — CID ऑफिसर्स कई बार मानवाधिकार संकटों और घातक आपराधिक मामलों की सुनवाई करते हैं और यह सुनिश्चित करने का प्रयास करते हैं कि न्याय होता है और आपराधिकों को सजा दी जाती है।
  • सामाजिक सचेतना — CID ऑफिसर्स सामाजिक सचेतना और सुरक्षा जागरूकता को बढ़ावा देने में भी मदद करते हैं, जिसका उद्देश्य सामाजिक और आपराधिक खतरों को घटाना है।

यहीं तक कि CID ऑफिसर्स के कार्य विभिन्न हो सकते हैं, और उनकी जिम्मेदारियाँ उनके पद के स्तर और कौशलों के आधार पर विभिन्न हो सकती हैं।

Related…. IRS Officer Kaise Bane | How to become an IRS Officer in Hindi

सीआईडी ऑफिसर की भर्ती प्रक्रिया

सीआइडी (CID) ऑफिसर की भर्ती प्रक्रिया भारतीय पुलिस सेवा (IPS) के तहत होती है, और इसके लिए आपको संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) के द्वारा आयोजित सिविल सेवा परीक्षा (Civil Services Examination) में उपस्थित होकर चयन किया जाता है। निम्नलिखित है सीआइडी ऑफिसर बनने की भर्ती प्रक्रिया के मुख्य चरण:

सिविल सेवा परीक्षा (Civil Services Examination – CSE):

  • सीआइडी ऑफिसर बनने के लिए आपको सिविल सेवा परीक्षा (CSE) की तैयारी करनी होगी, जिसे संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) आयोजित करता है।
  • CSE में विभिन्न चरण होते हैं, जैसे कि प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा, और इंटरव्यू।

प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Examination):

  • प्रारंभिक परीक्षा एक चयनकर्ती परीक्षा होती है और इसमें सामान्य अध्ययन और वस्त्रित परीक्षण होता है।

मुख्य परीक्षा (Main Examination):

  • मुख्य परीक्षा में विविध प्रकार के पेपर होते हैं, जिनमें आपको निबंध लिखने, जनरल स्टडीज़, और वैकल्पिक पेपर्स का चयन करना होता है।
  • यदि आपके पास सफलतापूर्वक मुख्य परीक्षा पास होती है, तो आप अगले चरण में बढ़ सकते हैं।

इंटरव्यू (Interview):

इंटरव्यू चरण में, आपको UPSC द्वारा आयोजित किया जाता है, जिसमें आपके ज्ञान, प्रशासनिक क्षमता, और व्यक्तिगत योग्यता का मूल्यांकन किया जाता है।

फाइनल सिलेक्शन

  • चयन सभी चरणों के पास करने के बाद, आपको सीआइडी ऑफिसर के पद पर नियुक्त किया जाता है।

सीआइडी ऑफिसर बनने के लिए UPSC CSE की तैयारी करने में कई साल लग सकते हैं, और इसमें अधिकतम प्रतिबद्धता और मेहनत की आवश्यकता होती है।

Related … सॉफ्टवेयर इंजीनियर कैसे बनें? कार्य, भर्ती प्रक्रिया, योग्यता- Software Engineer Kaise Bane

सीआईडी ऑफिसर सिलेबस

सीआइडी (CID) ऑफिसर बनने के लिए आपको सिविल सेवा परीक्षा (Civil Services Examination – CSE) की तैयारी करनी होती है, और यहां पर CSE के मुख्य विषयों का सिलेबस है, जिनमें सामान्य अध्ययन और वैकल्पिक विषय शामिल होते हैं:

प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Examination):

  1. सामान्य अध्ययन – I: इतिहास, भूगोल, भूगोल, विज्ञान, राजनीति विज्ञान, और अर्थशास्त्र के मुख्य पहलुओं का परीक्षण होता है।
  2. सामान्य अध्ययन – II (सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा का भाषा विषय होता है): इस पेपर में भाषा और कृति के आरंभिक ज्ञान का परीक्षण होता है।

मुख्य परीक्षा (Main Examination):

  1. निबंध: आपको दो निबंध लिखने होते हैं, जिनमें एक निबंध सामान्य अध्ययन से संबंधित होता है और एक निबंध वैकल्पिक विषय से संबंधित होता है।
  2. सामान्य अध्ययन पेपर 1:
  • इतिहास: भारतीय और विश्व इतिहास
  • सामाजिक और आर्थिक विकास
  • गणराज्य और संविधान
  • पर्यावरण, साइंस, तकनीक, और सामाजिक विज्ञान
  1. सामान्य अध्ययन पेपर 2:
  • भूगोल: भारतीय और विश्व भूगोल
  • सामाजिक विज्ञान: सामाजिक समस्याएँ, संगठन, और समाजशास्त्र
  • भाषा और साहित्य: भाषा, साहित्य, और कृति से संबंधित विषय
  1. वैकल्पिक विषय 1: आपको एक वैकल्पिक विषय का चयन करना होता है, जैसे कि इतिहास, भूगोल, साहित्य, गणित, आदि।
  2. वैकल्पिक विषय 2: यह भी एक वैकल्पिक विषय का चयन करने के लिए होता है, जो आपकी रुचि के हिसाब से हो सकता है।

यह सिलेबस समय-समय पर बदल सकता है, इसलिए सिविल सेवा परीक्षा (CSE) की आधिकारिक वेबसाइट और अधिसूचनाओं को नियमित रूप से चेक करना महत्वपूर्ण होता है।

Related …

FAQ,s

CID Officer कौन होते हैं?

CID Officer एक पुलिस अधिकारी होते हैं जो गंभीर अपराधों और जासूसी मामलों की जांच करते हैं और सुरक्षा की जिम्मेदारियों का पालन करते हैं।

CID Officer कैसे बन सकते हैं?

CID Officer बनने के लिए आपको भारतीय पुलिस सेवा (IPS) के तहत सिविल सेवा परीक्षा (Civil Services Examination) में उपस्थित होना होता है और उसे पास करना होता है।

सीआइडी ऑफिसर कैसे बन सकते हैं?

सीआइडी ऑफिसर बनने के लिए, आपको सिविल सेवा परीक्षा (Civil Services Examination) की तैयारी करनी होती है, जिसे संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) आयोजित करता है।आपको इस परीक्षा में प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा को पास करना होता है, और फिर इंटरव्यू के माध्यम से चयन होता है।

सीआइडी ऑफिसर बनने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए?

सीआइडी ऑफिसर बनने के लिए आपको भारतीय नागरिक होना चाहिए।आपकी आयु, शैक्षिक योग्यता, और अन्य पात्रता मानदंडों को पूरा करना होता है, जो UPSC के निर्दिष्ट नियमों और विधियों के तहत होते हैं।

CID Officer का काम क्या होता है?

CID Officer का काम अपराधिक जांच करना, गतिविधियों की मॉनिटरिंग करना, सुरक्षा योजनाएँ बनाना, जासूसी कार्य करना, और आपराधिक मामलों की सुनवाई करना होता है।

CID Officer की सैलरी कितनी होती है?

CID Officer की सैलरी भारतीय पुलिस सेवा (IPS) के तहत होती है, और इसका स्तर और सरकारी नियमों के आधार पर विभिन्न हो सकता है।

CID Officer बनने के बाद क्या करियर विकल्प होते हैं?

CID Officer बनने के बाद, आपके पास पुलिस और अन्य सुरक्षा एजेंसियों में विभिन्न पदों के लिए करियर विकल्प हो सकते हैं, जैसे कि रिसर्च और डिवेलपमेंट, क्राइम ब्रांच, या अन्य विशेषज्ञ भूमिकाएँ।

CID Officer के लिए अधिसूचना कहाँ से मिलती है?

सीआइडी ऑफिसर बनने के लिए सिविल सेवा परीक्षा (CSE) की अधिसूचना संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) की आधिकारिक वेबसाइट पर प्रकाशित होती है।

Conclusion –

सीआइडी ऑफिसर कैसे बनें ( CID Officer Kaise Bane) लेख में हमने आपको सीआईडी ऑफिसर कैसे बनते हैं से संबंधित सभी जानकारी प्रदान की जिसमें हमने आपको सीआईडी ऑफिसर बनने के लिए क्या योग्यता होना चाहिए सीआईडी ऑफिसर बनने के लिए आपकी सेक्स करने की योग्यता क्या होना चाहिए आपकी हाइट कितनी होना चाहिए आपका सीना कितना होना चाहिए। इसके अलावा अपने आपको सीआईडी ऑफिसर बनने के लिए लिखित परीक्षा पैटर्न क्या होता है उसके बारे में भी बताया है ताकि आपको सीआईडी ऑफिसर बनने के लिए जो जानकारी चाहिए वह इस आर्टिकल से मिल सके

अगर आपको सीआईडी ऑफिसर कैसे बने देख से कुछ सीखने को मिला हो तो सभी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के द्वारा अपने सभी मित्रों को शेयर करें ताकि उनको भी पता चलेगी आखिर सीआईडी ऑफिसर कैसे बने।

keshav Barkule
keshav Barkulehttps://hindimeindia.com
Mera Naam keshav B. Barkule। Mein Hindimeindia.com Blog Ka Owner Hun। Hindi Me india Blog Par Technology, Software, Internet, Computer, Blogging, Earn Money Online Evam Education Se Related Latest Information Dete Hai.

Share post:

Subscribe

spot_imgspot_img

Popular

More like this
Related

How to free make money online – ऑनलाइन पैसे कैसे कमाएं.

ऑनलाइन पैसे कमाने के कई तरीके हैं। यहां कुछ...

Front End Developer – कैसे बने इन 2024.

2024 में फ्रंट एंड डेवलपर कैसे बनें Front End Developer...

Email ID कैसे बनाये.

ईमेल आईडी बनाने के लिए निम्नलिखित चरणों का पालन...

SEO कैसे करे और अपने ब्लॉग की ट्रैफिक बढ़ाये?

एक beginning जो नया नया blogging कर रहा है...