बल्ब का आविष्कार किसने और कब किया? Bulb Ka Avishkar Kisne Kiya Tha

Date:

Bulb Ka Avishkar Kisne Kiya Aur Kab: नमस्कार दोस्तों क्या आप जानते Bulb का आविष्कार किसने और कब किया था। यदि नही जानते कि सर्वप्रथम बल्ब का आविष्कार किसके द्वारा और कब हुआ या इलेक्ट्रिक बल्ब का आविष्कार कब हुआ तथा बल्ब के आविष्कारक साइंटिस्ट कौन है और किस देश से ताल्लुक रखते है। कोई बात नहीं इस आर्टिकल Bulb Ka Avishkar Kab Hua के बारे में करेक्ट जानकारी देने वाले है।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

बल्ब के आविष्कार से प्राचीन समय में मसाल (Spice) and और चिमनी (Tamarind) जलाकर रात में प्रकाश किया जाता था। लोग चिमनी के प्रकाश में ही खाना बनाते थे जिससे बहुत सारे हादसा भी होते थे। जब से Bulb का आविष्कार हुआ तब से लोगो के अंधकार लाइफ में प्रकाश आया और आज इस बल्ब के चलते पूरी लाइफ ही बदल गई। आज सभी घर में Bulb का आविष्कार होने से प्रकाश या रोशनी मिलती है। इससे ग्रासलेट से जलने वाली चिमनियां और मसाल का रिवाज स्थगित हो गया। अब हमारे बच्चे रात्रि के समय में बल्ब के रोशनी में आराम  से पढ़ाई करते हैं और महिलाएं बड़े आराम से खाना बनाती है।

पहले कुछ काम ऐसे होते थे जिन्हें रात में करना बहुत मुश्किल होता था लेकिन Bulb का आविष्कार होने से दिन के काम रात में कर आजाद हो सकते है। इसके अतरिक्त आज इन्हीं Bulb की रोशनी में रात्रि के टाइम में खेल के मैदानों में उपयोग कर गेम भी खेल सकते है। फुटबाल,हॉकी,कबड्डी और क्रिकेट जैसे खेल रात के टाइम में बड़े बड़े Bulbs की रोशनी में खेले जाते है। आईए जानते है Bulb Ka Avishkar Kisne Kiya or Kab ( Who invented the bulb and when).

बल्ब क्या है? What is bulb in Hindi?

Bulb एक ग्लास यानी कांच का बना हुआ गोला होता है इस कांच के अंदर एक टंगस्टन (Tungsten) का तंतु लगा होता है इस तंतु या मेटल के बाहर निकले एक Wire में फेस (Phase) और दूसरे में अर्थ (Earth) छोड़ा जाता है जिससे तंतु Heat होकर लाइट उत्पन्न करता है जिसे हम Bulb का जलना बोलते है, इसे ही Bulb कहते हैं।

अधिक बड़े Bulb में कम प्रेसर पर Hydrogen, Argon,Krypton,Nitrogen और Zenone में से एक Gas भरते हैं। इन चारों में से सबसे उत्तम गैस Krypton मानी जाती है इसका उपयोग छोटे बल्ब बनाने में होता है। गर्म होने के कारण से लाइट उत्पन्न होने की पूरी प्रोसेस को तापदीप्ति ( Incandescence) कहा जाता है। इस तरह के बल्बों को Incandescent Bulb कहा जाता है। बता दें कि इस तरह का बल्ब 1.5 Volt से 300 Volt की बिजली पर लाइट उत्पन्न करते है। यदि आप बाजार में बल्ब खरीदने जाएंगे तो आपको अलग-अलग कैटेगरी के और 1 Watt से 500, 1000 Watt तक के Bulb आसानी से मिल जायेंगे। Bulb बनाने में सबसे निम्न खर्चा ताप्तीदीप बल्ब बनाने में ही आता है। इस प्रकार का बल्ब AC और DC दोनों तरह के करंट पर आराम से प्रकाश उत्पन्न करता है। लेकिन इसके साथ सबसे बड़ी प्रोब्लम यह है कि इसमें बिजली अधिक कंज्यूम होती है इस वजह इस तरह का बल्ब उपयोग करने से बिजली का बिल भी अधिक आता है। इसी वजह से Bulb की बिक्री बहुत कम हो गई है।

बढ़ती टेक्नोलॉजी के टाइम में आज मार्केट में एक से बढ़कर एक CFL Bulb, LED BULB उपलब्ध हो गए हैं जिनमें बिजली की खपत बहुत कम होती है और लाइट भी अच्छी खासी देते हैं। ऐसे Bulb आंखों को भी हानि नही पहुंचाते है। दोस्तों,अब आगे जानते है की इलेक्ट्रिक बल्ब का आविष्कार किसने और कब किया,Bulb के आविष्कारक साइंटिस्ट ने बल्ब कब और कैसे बनाया जिससे हमे आज रात के अंधकार से छुटकरा मिल पाया है।

Bulb का आविष्कार किसने किया और कब किया? 

United States Of America (USA) के Thomas Alva Edison नामक वैज्ञानिक ने 14 अक्टूबर साल 1878 को इलेक्ट्रिक बल्ब का आविष्कार किया था। उस टाइम Bulb के आविष्कारक वैज्ञानिक थॉमस अल्वा एडिसन काफी फेमस थे।

Edison ने संसार में सर्वप्रथम Carbon Filament Light बल्ब का आविष्कार किया था। यह बल्ब को जब बिजली से जोड़ा जाता था तो जलने या प्रकश देने लगता था।

Bulb का आविष्कार करने में Edison को लगभग 18 महीने का समय लगा था। Thomas Alva Edison के माध्यम से निर्मित बल्ब को जब प्रथम बार जलाया गया तो यह बल्ब निरंतर 13 घंटे तक जला था।

बल्ब के आविष्कार के अतरिक्त साल 1891 में तमाम तरह के छोटे और बड़े डिवाइस ट्रांसमीटर, एल्कलाइन स्टोरेज बैटरी,मोशन पिक्चर कैमरा, ग्रामोफोन,कार्बन टेलीफोन का आविष्कार भी किया था। आपको बताना चाहते है कि उपर्युक्त सभी उपकरणों की Edison के नाम पर एक पेटेंट बुक भी शामिल है।

Thomas Alva Edison (थॉमस अल्वा एडीसन)

Edison पूरी दुनिया में सबसे पहले बल्ब बनाने वाले इकलौते वैज्ञानिक बने। Bulb का आविष्कार करने में Thomas Alva Edison को लगभग डेढ़ साल का टाइम लगा था। एडीसन के इलेक्ट्रिक बल्ब के आविष्कार से पहले भी कई विज्ञानिक Bulb बनाने की कोसिस कर चुके थे लेकिन किसी को सफलता हासिल नही हुई थी। इन सभी वैज्ञानिकों के कोसिसों के बाद जब Thomas Alva Edison ने बल्ब बनाने का प्रयास किया तो पहले से अनुसंधान कर चुके वैज्ञानिकों की थोड़ी बहुत सहायता थॉमस अल्वा एडिसन को मिल गई थी, यही वजह है कि Bulb का आविष्कार थॉमस अल्वा एडिसन ने बहुत ही निम्न समय में किया।

पेटेंट अपने नाम करते टाइम Edison ने उस ‘पेटेंट’ (Patent) का नाम 14 अक्टूबर साल 1878 को इम्प्रूवमेंट इन इलेक्ट्रिक लाइट्स (Improvements In Electric Lights) करवाया था। लगभग 18 महीने के बल्ब के Research पर अनेक धातुओं (Metals) का उपयोग किया गया जैसे – Carbon, Platinum आदि। बता दें कि Platinum धातु एक ऐसी धातू थी जिसका इस्तेमाल करने से प्लेटिनम बल्ब की लाइट केवल 12 घंटे सीमित थी और बहुत कॉस्टली भी था। उसके बाद Edison ने बल्ब बनाने मे इस्तेमाल से बल्ब की रोशनी 12 घंटे तक तो सिमित थी। लेकिन Platinum बल्ब का प्रयोग काफी महंगा था। कार्बन फिलामेंट के मेटल के उपयोग से थॉमस को एक अच्छा बल्ब का आविष्कार करने में सफलता हासिल हुई।

बल्ब के प्रकार Types Of Bulb 

आज बाजार में अनेकों तरह के Bulb उपलब्ध है जिनके विषय में शायद आपको पता भी नहीं होगा क्योंकि कुछ ऐसे बल्ब होते है जिनका हमको अधिक या कभी जरूरत ही नही पड़ता है। लेकिन फिर भी Bulb के प्रकार के बारे में जानना महत्वपूर्ण है। मार्केट में उपलब्ध बल्ब के प्रकार उनके नाम सहित नीचे दिए गए है-

CFL (Compact Fluorescent Lamps)

LED (Light Emitting Diode)

Fluorescent Lamps

Incandescent Bulbs

Halogen

बल्ब का आविष्कार का इतिहास History Of Bulb Invention 

बल्ब का आविष्कार America के थॉमस अल्वा एडीसन नाम के साइंटिस्ट ने साल 1878 में किया था। Bulb के आविष्कार करने के लिए पहले से कई वैज्ञानिक कोशिश कर रहे थे। बल्ब के प्रयास में शामिल वैज्ञानिक Humphry Davy जिन्होंने सर्वप्रथम साल 1802 में Electric Bulb का आविष्कार किया था। इसके अलावा Humphry Davy ने इलेक्ट्रिसिटी के साथ प्रयोग करके एक बैटरी का निर्माण किया। इस प्रयोग में Wire को Battery से कनेक्ट किया और साथ में Carbon लगाया तो कार्बन रोशनी प्रोड्यूस करने लगा, इस तरह Humphry Davy ने सबसे पहले Electric Bulb का आविष्कार किया। आपको बता दें कि यह आविष्कार Electric Arc Lamp के नाम पर रखा गया था। इसमें सबसे बडी दिक्कत यही थी अधिक समय तक Light नही चलती थीं। इस तरह सर्वप्रथम Electric बल्ब का आविष्कार हुआ था।

British वैज्ञानिक Warren de la Rue ने साल 1840 में Coiled Platinum Filament को Vacuum Tube में रखा और इसके माध्यम से बिजली फ्लो पारित किया। आपकी बता दें कि इसका मुख्य उद्देश्य Platinum का हाई मेल्टिंग प्वाइंट था जो इसे अधिकतम टेंपरेचर पर कंट्रोल रखना था। जिसके वजह से चैंबर में कुछ Gas Molecule होंगे जो प्लैटिनम से रिएक्शन भी करते रहेंगे। प्रकाश पहले की तुलना में ज्यादा समय तक चलेगी।

कुछ समय पश्चात साल 1850 में Joseph Swan नाम के एक साइंटिस्ट ने Carbonized Paper Filaments के Glass Bulb में प्रयोग कर Electric Bulb बनाया गया किंतु एक अच्छे Vacuum एवं Electricity के अभाव के कारण ज्यादा समय तक नही चल पाता था। बाजार में साल 1870 बेहतरीन Vacuum Pump आ चुके थे उसके बाद फिर से Joseph Swan ने अपना एक्सपेरिमेंट शुरू किया। मित्रों 18 दिसंबर साल 1878 को उन्होंने Carbon Rod की सहायता से तैयार किया गया Lamp Newcastle Chemical Society बैठक में प्रदर्शित किया परंतु कुछ मिनट बाद अधिक बिजली के उपयोग से यह टूट गया। इसके बाद उन्होंने इसमें कुछ परिवर्तन या मोडिफिकेशन कर 17 जनवरी साल 1879 को कार्य करता हुआ Lamp पुनः मीटिंग में प्रदर्शित किया।

दोस्तों इसके बाद 3 फरवरी साल 1879 के दिन Literary and Philosophical Society of Newcastle Upon Tyne Meeting के टाइम दिखाया है, इस लैंप में उपयोग होने वाला Carbon Rod का प्रतिरोध (Resistance) काफी कम था। जिसके वजह से Lamp तक बिजली पहुँचाने के लिए विशाल कंडक्टर यानी चालक की आवश्यकता पड़ती थी। इसलिए यह सामान्य उपयोग या फिर बाजार में बेचने की हालत में नही था। फिर उनका ध्यान कार्बन फिलामेंट के सुधार को ओर गया जो उन्होंने कॉटन यानी रूई की मदद से बनाया गया, जिसको Parchmentised Thread के नाम से जानते थे। 

ऐसे Filament का पेटेंट उन्होंने 27 नवंबर साल 1880 को प्राप्त किया है। Bulb के आविष्कारक Thomas Alva Edison ने साल 1878 में इंप्रूवमेंट इन इलेक्ट्रिक लाइट्स नाम से 14 अक्टूबर वर्ष 1878 को पेटेंट करवाया था। उन्होंने बहुत कोशिश किया इसी तरह सारी दुनिया का प्रथम बल्ब तैयार हुआ जो मार्केट में बेचा भी जा सकता था।

Related…. हेलीकॉप्टर का आविष्कार किसने और कब किया

सर्वप्रथम बल्ब की खोज किसने कब की?

Thomas Alva Edison नाम के एक वैज्ञानिक ने 14 अक्टूबर साल 1878 को इलेक्ट्रिक बल्ब की खोज की थी।

Bulb बनाने वाले वैज्ञानिक का नाम?

थॉमस अल्वा एडिसन (Thomas Alva Edison)

एलईडी (LED) बल्ब का आविष्कर किसने किया?

U.S कंपनी में कार्य करने वाले Nick Holonyak ने साल 1962 में LED BULB का आविष्कार किया था।

Related ……

निष्कर्ष –

हम आशा करते है कि Bulb Ka Avishkar Kisne Aur Kab Kiya, Bulb Ka Avishkar Kab Hua, Bulb Ki Khoj Kab Hui के बारे में जानकारी जरूर पसंद आई होगी। यदि आपको बल्ब का आविष्कार किसने किया था और कब किया था से जुड़े किसी भी प्रकार का प्रश्न हो तो हमे कमेंट बॉक्स के कमेंट करके बताएं। आपके प्रश्न का जवाब जरूर दिया जाएगा।

keshav Barkule
keshav Barkulehttps://hindimeindia.com
Mera Naam keshav B. Barkule। Mein Hindimeindia.com Blog Ka Owner Hun। Hindi Me india Blog Par Technology, Software, Internet, Computer, Blogging, Earn Money Online Evam Education Se Related Latest Information Dete Hai.

Share post:

Subscribe

spot_imgspot_img

Popular

More like this
Related

How to free make money online – ऑनलाइन पैसे कैसे कमाएं.

ऑनलाइन पैसे कमाने के कई तरीके हैं। यहां कुछ...

Front End Developer – कैसे बने इन 2024.

2024 में फ्रंट एंड डेवलपर कैसे बनें Front End Developer...

Email ID कैसे बनाये.

ईमेल आईडी बनाने के लिए निम्नलिखित चरणों का पालन...

SEO कैसे करे और अपने ब्लॉग की ट्रैफिक बढ़ाये?

एक beginning जो नया नया blogging कर रहा है...