टीआरपी क्या है (What is TRP) – टीआरपी के बारे में जानकारी

Date:

टीआरपी रेटिंग क्या है – आपका पसंदिता सीरियल कौन सा है? या फिर आपको कौन सा न्यूज़ चैनल देखना अच्छा लगता है? यह किसी भी धारावाहिक या टीवी चैनल के लिए बहुत इंपोर्टेंट रखता है। ज्यादातर हम अपने एंटरटेनमेंट के लिए कई तरह के धारावाहिक देखते हैं। कई धारावाहिक कंपनिया काफी वर्षों से लगातार एपिसोड पर एपिसोड बनाते रहती हैं। और कई न्यूज़ टीवी चैनल ऐसे हैं जिसके साथ जनता सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के द्वारा कनेक्ट रहती है।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

दोस्तों, यदि आप लोग भी टेलीविजन देखने के काफी शौक रखते हैं तो आपने कभी न कभी तो टीआरपी रेटिंग (TRP RATING) जैसे शब्द का नाम तो सुना ही होगा। होता है क्या है आखिर यह टीआरपी रेटिंग और इसका किसी भी टीवी चैनल पर क्या प्रभाव पड़ता है यह जानकारी जानना हम सभी लोगों के लिए उतना ही महत्वपूर्ण है जितना की किसी टीवी चैनल को दिल लगाकर घंटों तक देखते रहना।

इस लेख में हम आपको TRP के बारे में विस्तृत जानकारी देने वाले हैं। आज के इस आर्टिकल  में आप जानेंगे की TRP RATING Kya Hota Hai? और किसी TRP RATING का Channel पर क्या प्रभाव पड़ता है। साथ ही Top TRP Channel, Serials की लिस्ट भी इस लेख में दी गई है। 

चलिए अब टीआरपी क्या है, कैसे काम करती है और टीआरपी की गणना कैसे होती है एवं टीआरपी रेटिंग कम ज्यादा होने से क्या होता हैं।

TRP Full Form in Hindi

TRP का पूरा नाम होता है “टेलीविजन रेटिंग्स पॉइंट” (Television Rating Points)। यह एक प्रमुख टेलीविजन उद्योग में उपयोग होने वाली मापनीकी होती है जिससे टेलीविजन चैनलों के शोज की लोकप्रियता और दर्शकों की संख्या का मूल्यांकन किया जाता है। TRP द्वारा चैनल और उनके शोज की प्रदर्शनक्षमता को मापा जाता है और उनकी विज्ञापन मूल्यक्रम में योगदान किया जाता है।

टेक्नोलॉजी के फायदे और नुकसान Advantages and Disadvantages of Technology in Hindi

टीआरपी क्या है – TRP Kya Hoti Hai

टीआरपी (TRP) टेलीविजन रेटिंग पॉइंट्स का संक्षिप्त रूप होता है। यह एक मापनिकी होती है जिसका उपयोग टेलीविजन चैनलों के शोज की प्रदर्शनक्षमता और दर्शकों की संख्या का मूल्यांकन करने के लिए किया जाता है। TRP का मूल उद्देश्य यह होता है कि विगत समय के दौरान कितने लोग विशिष्ट टेलीविजन प्रोग्राम को देख रहे थे, और इससे चैनलों और उनके विपणनकारों को दर्शकों के आकर्षण को मापने और उनके विज्ञापन मूल्यक्रम को निर्धारित करने में मदद मिलती है। TRP डेटा टेलीविजन उद्योग में आदर्श टेलीविजन प्रोग्रामिंग की रख-रखाव करने और विपणन नीतियों को तैयार करने के लिए उपयोग किया जाता है।

टीआरपी कैसे काम करती हैं?

टीआरपी (TRP) डेटा को प्राप्त करने और गणने की प्रक्रिया निम्नलिखित तरीके से काम करती है:

सैंपल सेलेक्शन (Sample Selection): टीआरपी के लिए सैंपल घरों का चयन किया जाता है, जिनमें टेलीविजन देखने के लिए मीटरिंग डिवाइस (मीटर) इंस्टॉल किया जाता है।

डेटा कलेक्शन (Data Collection): इन मीटरों के माध्यम से, टेलीविजन चैनलों पर प्रसारित हो रहे प्रोग्रामों के दर्शन की जानकारी संग्रहित की जाती है।

डेटा संग्रहण (Data Aggregation): संग्रहित डेटा से दर्शकों की उम्र, लिंग, शहर, और अन्य महत्वपूर्ण जानकारी को एकत्र किया जाता है।

टीआरपी की गणना (TRP Calculation): सैंपल सूची में शामिल घरों में दर्शकों की संख्या का आधार बनाकर, टीआरपी स्कोर निकाला जाता है। यह स्कोर दिखाता है कि कितने लोग विशिष्ट प्रोग्राम को देख रहे थे, और यह किस जाति, उम्र और लोकेशन के आधार पर किया जा रहा है।

टीआरपी की रिपोर्टिंग (TRP Reporting): टीआरपी स्कोर टेलीविजन चैनलों और उनके विपणनकारों को प्रदान किया जाता है, ताकि वे अपनी प्रोग्राम और विज्ञापन रणनीतियों को समझ सकें और सुधार सकें।

इस प्रक्रिया के माध्यम से, टीआरपी डेटा टेलीविजन चैनलों और विपणनकारों को उनके दर्शकों की पसंदीदगी को समझने में मदद करती है, जिससे वे अधिक आकर्षक प्रोग्राम बना सकते हैं और अपने विज्ञापनों को सही लक्ष्य दर्शकों के पास पहुँचा सकें।

OTP क्या है, ओटीपी का महत्व क्या है? What is OTP in Hindi

टीआरपी की गणना कैसे की जाती है?

टीआरपी (TRP) की गणना के लिए विभिन्न तरीके का उपयोग किया जा सकता है, लेकिन एक प्रमुख तरीका जो अक्सर प्रयुक्त होता है, वह नीम्नलिखित प्रक्रिया पर आधारित होता है:

सैंपल डेटा कलेक्शन (Sample Data Collection): सबसे पहले, सैंपल सेट को चुना जाता है, जिसमें टेलीविजन देखने वाले घरों में मीटरिंग डिवाइस (मीटर) इंस्टॉल किए जाते हैं। ये मीटर दर्शकों के टेलीविजन देखने के पैटर्न को नोट करते हैं।

डेटा कलेक्शन (Data Collection): मीटर हर दर्शक के टेलीविजन देखने के प्रोग्राम पर डेटा संग्रहित करते हैं, जैसे कि कौनसे चैनल देखे जा रहे हैं और कितनी देर तक वे देखते हैं।

डेटा संग्रहण (Data Aggregation): संग्रहित डेटा से दर्शकों की उम्र, लिंग, शहर, और अन्य जानकारी को एकत्र किया जाता है।

टीआरपी की गणना (TRP Calculation): टीआरपी स्कोर का निर्माण सैंपल सूची में शामिल घरों की संख्या के आधार पर किया जाता है। आमतौर पर, टीआरपी स्कोर निम्नलिखित तरीके से गणित किया जाता है:

(देखे जाने वाले प्रोग्राम की दर्शकों की संख्या) / (सैंपल सूची में शामिल घरों की कुल संख्या) x 1000 इसके परिणामस्वरूप, टीआरपी स्कोर को “प्रति हजार” में प्रकट किया जाता है, जिससे यह पता चलता है कि प्रति हजार घरों में कितने लोग विशिष्ट प्रोग्राम को देख रहे थे।

टीआरपी की रिपोर्टिंग (TRP Reporting): टीआरपी स्कोर टेलीविजन चैनलों और विपणनकारों को प्रदान किया जाता है, जिससे वे अपनी प्रोग्राम और विज्ञापन रणनीतियों को समझ सकें और सुधार सकें।

इस प्रक्रिया के माध्यम से, टीआरपी डेटा टेलीविजन चैनलों और विपणनकारों को दर्शकों की पसंदीदगी को समझने में मदद करता है, जिससे वे अधिक आकर्षक प्रोग्राम बना सकते हैं और अपने विज्ञापनों को सही लक्ष्य दर्शकों के पास पहुँचा सकें।

सैटेलाइट क्या है, कैसे उड़ता है? What is Satellite in Hindi

टीआरपी घटने और बढ़ने से क्या होता है?

टीआरपी (TRP) की वृद्धि और गिरावट का प्रमुख प्रभाव टेलीविजन चैनल्स और उनके विपणनकारों के लिए होता है।

टीआरपी बढ़ने से:

  • अधिक विज्ञापन आयोग (Increased Advertising Revenue): जब किसी चैनल के शोज की TRP बढ़ती है, तो उस चैनल पर विज्ञापनों के लिए अधिक मूल्यक्रम मिल सकते हैं, क्योंकि विज्ञापनकार दर्शकों के बढ़ते हुए आंकड़ों का फायदा उठाना चाहते हैं।
  • अधिक उपाधि (Higher Prestige): एक चैनल के लिए अधिक TRP उसके लिए प्रतिष्ठा का प्रतीक हो सकता है, और यह उसे अन्य चैनलों से बेहतर माना जा सकता है।
  • अधिक दर्शक आकर्षण (Increased Viewer Attraction): बढ़ी TRP से चैनल और उसके विपणनकार अधिक दर्शकों को आकर्षित कर सकते हैं, क्योंकि लोग उनके प्रोग्राम को ज्यादा देखने के लिए प्रवृत्त हो सकते हैं।

टीआरपी घटने से:

  • कम विज्ञापन आयोग (Reduced Advertising Revenue): जब किसी चैनल के शोज की TRP घटती है, तो उस चैनल पर विज्ञापनों के लिए कम मूल्यक्रम मिल सकते हैं, जिससे उसकी आय कम हो सकती है।
  • अधिक दर्शकों की हानि (Loss of Viewership): टीआरपी की गिरावट से चैनल अपने दर्शकों को खो सकता है, क्योंकि वे दूसरे प्रोग्रामों को पसंद करने लग सकते हैं, जिनकी TRP बेहतर हो सकती है।
  • अधिक विपणनकारों की अच्छी चुनौती (Challenging for Advertisers): कम TRP वाले चैनल्स को विपणनकारों को विज्ञापनों के लिए दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है, क्योंकि उनके विज्ञापन प्रभावकारी नहीं हो सकते।
  • अधिक उत्पादन लागत (Higher Production Costs): चैनल्स को अधिक TRP प्राप्त करने के लिए अधिक आकर्षक और महंगे प्रोग्राम बनाने की आवश्यकता हो सकती है, जिससे उनकी उत्पादन लागत बढ़ सकती है।

सम्भावना है कि टीआरपी की बढ़ती या घटती गणना से चैनल्स और उनके विपणनकार उपयुक्त कदम उठाएंगे ताकि वे अपने दर्शकों को खोने से बच सकें और अधिक आकर्षक विज्ञापन नीतियों को अपनाएं।

Top 10 search engines in the world in Hindi । दुनिया के शीर्ष 10 खोज इंजन

टीआरपी से पैसे कैसे कमाए?

टीआरपी (TRP) से पैसे कमाने के लिए आपको निम्नलिखित तरीकों का अपना करियर बना सकते हैं:

अच्छे वेब टेलीविजन अंकुश (Good Television Hosts): यदि आपके पास अच्छी वाणीज्य और प्रसंस्कृति है, तो आप टेलीविजन के प्रोग्रामों के मेजबान के रूप में काम कर सकते हैं। आपका प्रोग्राम लोगों को आकर्षित करना चाहिए, ताकि TRP बढ़े और विपणनकारों को आपके शो पर विज्ञापन देने का इंटरेस्ट हो।

स्क्रिप्ट लेखन (Scriptwriting): टेलीविजन के प्रोग्रामों के लिए स्क्रिप्ट लिखने में रुचि रखने वाले लोग स्क्रिप्ट लेखक के रूप में काम कर सकते हैं। एक अच्छा स्क्रिप्ट और मनोरंजनक कहानी TRP को बढ़ा सकते हैं।

प्रोड्यूसर बनें (Become a Producer): टेलीविजन प्रोड्यूसर के रूप में काम करने से आप अपने खुद के प्रोग्राम बना सकते हैं और TRP को बढ़ा सकते हैं।

मार्केटिंग और प्रवर्धन (Marketing and Promotion): टेलीविजन चैनल्स और प्रोग्राम्स की प्रमोशन के लिए मार्केटिंग और प्रवर्धन के क्षेत्र में काम करने से आप TRP और विपणनकारों के बीच माध्यम के रूप में काम कर सकते हैं।

टीआरपी डेटा एनालिस्ट (TRP Data Analyst): टीआरपी डेटा की विश्लेषण के लिए एक डेटा एनालिस्ट के रूप में काम करके आप टेलीविजन चैनलों और प्रोग्राम्स के लिए टीआरपी डेटा का विश्लेषण कर सकते हैं और उन्हें बेहतर करने के लिए सुझाव दे सकते हैं।

विज्ञापन एजेंसियों (Advertising Agencies): विज्ञापन एजेंसियों में विज्ञापन या मार्केटिंग के क्षेत्र में काम करने से आप टेलीविजन चैनलों के लिए विज्ञापन कैम्पेन्स की योजना बना सकते हैं, जो TRP को प्रभावित कर सकते हैं।

यदि आपके पास टेलीविजन इंडस्ट्री में कोई विशेष रुचि है और आपकी कौशल सेट उसके साथ मेल खाती है, तो आप टीआरपी से पैसे कमा सकते हैं, लेकिन यह आपके प्रयासों और पेशेवरिक प्रगति पर निर्भर करेगा।

Top 10 Best Software Companies in the world in Hindi – दुनिया की शीर्ष 10 सर्वश्रेष्ठ Software कंपनियां 

Conclusion –

दोस्तों TRP RATING Kya Hai लेख में आपको टीआरपी के बारे में जानकारी अच्छे से समझ में आ गई होगी ऐसा हमे उम्मीद है। अगर आपको टीआरपी के बारे में ओर कोई प्रश्न पूछना हो तो हमे कमेंट में बता सकते हैं।

वैसे हमने टीआरपी क्या होती है टीआरपी का मतलब क्या होता हैं टीआरपी का फुल फॉर्म क्या होता हैं और टीआरपी रेटिंग कम या ज्यादा होने से टीवी चैनल पर क्या प्रभाव पड़ेगा आदि के बारे में विस्तृत जानकारी बात दी है।

keshav Barkule
keshav Barkulehttps://hindimeindia.com
Mera Naam keshav B. Barkule। Mein Hindimeindia.com Blog Ka Owner Hun। Hindi Me india Blog Par Technology, Software, Internet, Computer, Blogging, Earn Money Online Evam Education Se Related Latest Information Dete Hai.

Share post:

Subscribe

spot_imgspot_img

Popular

More like this
Related

How to free make money online – ऑनलाइन पैसे कैसे कमाएं.

ऑनलाइन पैसे कमाने के कई तरीके हैं। यहां कुछ...

Front End Developer – कैसे बने इन 2024.

2024 में फ्रंट एंड डेवलपर कैसे बनें Front End Developer...

Email ID कैसे बनाये.

ईमेल आईडी बनाने के लिए निम्नलिखित चरणों का पालन...

SEO कैसे करे और अपने ब्लॉग की ट्रैफिक बढ़ाये?

एक beginning जो नया नया blogging कर रहा है...