टेक्नोलॉजी के फायदे और नुकसान Advantages and Disadvantages of Technology in Hindi

Date:

Hindi Me India आपका स्वागत करता है। Technology के बारे में क्या आप जानते है टेक्नोलॉजी क्या है/Technology Kya Hai,, लगता है आप नही जानते कि- “टेक्नोलॉजी के फायदे एवं नुकसान क्या है Advantages and disadvantages of technology in Hind” आर्टिकल मे Technology Ke Fayde Aur Nuksaan kya hai के बारे में सही जानकारी दी गई है।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

वर्तमान Digital Technology के समय में पूरी दुनिया अच्छे से जीवन यापन कर रही है, मित्रों 21 वी सदी मे टेक्नोलॉजी के अभाव में जीवन बिताना बहुत ही मुश्किल है हम तो यह मानते हैं कि नामुमकिन है। ‘प्रौद्योगिकी /टेक्नोलॉजी के फायदे एवं नुकसान Advantages Disadvantages of Technology in Hindi’ के बारे में जाने से पहले आपको टेक्नोलॉजी क्या है टेक्नोलॉजी की परिभाषा यानी टेक्नोलॉजी का मतलब क्या होता है यह जान लेना जरूरी है चलिए जानते हैं टेक्नोलॉजी क्या है उसके बाद टेक्नोलॉजी के फायदे और नुकसान के बारे में जानेंगे।

Table of Contents

टेक्नोलॉजी क्या है?

What is Technology: असर टेक्निकल उपकरण जिनका इस्तेमाल रोजमर्रा की जिंदगी में किया जाकर जीवन को आसन और काफी सुविधाजनक बनाया जा सकता है इसे हम टेक्नोलॉजी कहते हैं। दूसरे शब्दों में ऐसा भी कह सकते हैं कि ऐसे संसाधन या उपकरण जो मनुष्य द्वारा बनाए जाकर अपने जीवन में उपयोग कर शरीर का बल का इस्तेमाल ना के बराबर होकर वही कार्य उपकरण करने लग जाए जिससे हमारा जीवन आसान हो जाता है जिसे हम टेक्नोलॉजी कहते हैं।

Technology का मतलब/अर्थ प्रौद्योगिकी होता है, अभी तक अभी तक आपने टेक्नोलॉजी का मीनिंग “What is Technology in Hindi” यानी टेक्नोलॉजी का मतलब जाना है। अब आपको टेक्नोलॉजी के फायदे और नुकसान के बारे में जानने से पहले टेक्नोलॉजी के सभी उपकरणों के नाम के बारे में भी जान लेना चाहिए जिससे आपको टेक्नोलॉजी के कुछ फायदे और कुछ नुकसान अच्छे से समझ में आ जाएंगे।

टेक्नोलॉजी//प्रौद्योगिकी उपकरण और सेवायें

प्रौद्योगिकी/टेक्नोलॉजी उपकरण एवं सेवायें Technology Equipment and Services जिन्हे हमारे दैनिक जीवन में समय-समय पर या रोजमर्रा के जीवन यापन में इस्तेमाल किए जाते है जो कि निम्नानुसार है –

प्रौद्योगिकी/टेक्नोलॉजी उपकरण और सेवाये –

जनरेटर, इन्वेटर, इलेक्ट्रिक उपकरण, इंटरनेट, हवाईजहाज, बुलेट ट्रेन, मेट्रो ट्रेन, स्मार्ट फोन, कीपैड मोबाइल, टेबलेट, रेफ्रीजरेटर, इन्डकशन चूल्हा, ओवन, मिक्सर ग्राइंडर, दवाईयां, स्वास्थ परिक्षण हेतु आधुनिक मशीन जैसे कि – MRI जांच मशीन, कंप्यूटर, प्रिंटर, मोबाइल फोन, सोशल प्लेटफार्म (Youtube, Facebook) कैमरा, इंटरनेट, बिजली, पंखा, हीटर, रूम हीटर, रोशनी बल्ब, AC, वाशिंग मशीन, प्रेस, हाथ की सिलाई मशीन, चमक धमक हेतु कॉलर बल्ब, पानी की इलेक्ट्रिक मोटर, टेलीफोन, STD, एंड्रॉयड फोन, टेलीविजन, सिनेमा, साइकिल, मोटर साईकिल, कार, ट्रेन, ब्लड प्रेशर जांच मशीन, ब्लड टेस्ट, X Rey इत्यादि।।

Technology Ke Fayde / Advantages of Technology in Hindi

प्रौद्योगिकी (टेक्नोलॉजी) से अनेक फायदे (लाभ) है, टेक्नोलॉजी द्वारा बनाए गए महत्वपूर्ण उपकरण जैसे दूरसंचार, मनोरंजन, इंटरनेट, शिक्षा, स्वास्थ्य, आवागमन, बिजली, हवाई यात्रा आदि से अनेकों छेत्रो में फायदेमंद सिद्ध हुए है, टेक्नोलॉजी से होने वाले कुछ फायदे हम निम्न है-

इंटरनेट जैसी डिजीटल तकनीक का विकास

पूरे विश्व में जब से टेक्नोलॉजी द्वारा संचालित internet आया है। मनुष्य का जीवन आसान एवं सुवधामय हो गया है। Internet एक ऐसी Technology है जिससे अन्य टेक्नोलॉजी सिस्टम व उपकरण चलते हैं। इंटरनेट का इस्तेमाल हम Mobile, Computer, Laptop द्वारा करके अपने ऑफिस या किसी सरकारी कार्य को आसानी से कर लेते हैं, जब तक उक्त उपकरण हो इंटरनेट का कनेक्शन नही मिलेगी तब तक वह एक बेजान की तरह है जिनका इस्तेमाल करना संभव नहीं है।

जब इंटरनेट शुरू हुआ था उसे समय इंटरनेट की स्पीड 1GB 2GB 3GB 4GB और अब 5gb और आने वाले समय में जैसे-जैसे टोकनर टेक्नोलॉजी का विकास होता जा रहा है उसी तर्ज पर बहुत जल्द 6GB भी मार्केट में लॉन्च हो जाएगा जिससे हमारे मोबाइल लैपटॉप कंप्यूटर जैसे उपकरण की स्पीड और भी तेज हो जाएगी। जिससे हमारा समय बचेगा।

तकनीकी शिक्षा का ऑनलाइन विकास

पुराने समय में शिक्षा प्राप्त करने का एक मात्र साधन था पाठशाला। पुराने समय में स्कूल जाए बिना पढ़ाई करना संभव ही नहीं था। लेकिन जब से इंटरनेट जैसी टेक्नोलॉजी विश्व में आई है तब से ऑनलाइन शिक्षा का काफी हद तक विकास हुआ है। टेक्नोलॉजी के विकास से इंटरनेट के चलते वर्तमान समय में पढ़ने वाले स्टूडेंट एक देश से दूसरे देश में या एक राज्य से दूसरे राज्य में घर बैठे कोचिंग ले लेते हैं और अच्छे नंबरों से बड़े-बड़े एग्जाम में पास हो रहे हैं। यह सब टेक्नोलॉजी और इंटरनेट की देन है, कि आज ऑनलाइन घर बैठे भी पढ़ाई की जा सकती है। वर्तमान समय में ऑनलाइन सुरक्षा ग्रहण करने का मुख्य प्लेटफार्म Youtube, Facebook और एजुकेशन वाली Website है जहां पर विद्यार्थी घर बैठे कोचिंग कर सकता है। युटुब फेसबुक पर वेबसाइट इनमें से कुछ ड्रेसों में से जो फ्री में कोचिंग उपलब्ध करवाते हैं और कुछ में बहुत ही कम फीस ली जाती है।

उजाले के लिए आधुनिक बल्ब

पुराने समय में रोशनी के लिए घरों में कोई बिजिली और बल्ब नही होते हैं। लोग मसाल या कैंडल में घासलेट डालकर थोडा बहुत रोशनी का प्रबंध कर लेते थे, लेकिन फिर भी पूरे घर में रोशनी नही पहुंचती थी।

लेकिन वर्तमान समय में Technology के चलते
पूरा जीवन शैली ही परिवर्तित हो गईं। आज आपको हर घर में सामान्य और ज्यादातर आधूनिक बल्ब मिलेंगे जो आपके पूरे मकान में रोशनी पहुंचाते है। जिससे कोई धुआं का प्रदूषण भी नही फैलता है। वर्तमान समय में एक से बडकर एक led Bulb मार्केट में उपलब्ध है जो बहुत कम बिजली की खपत पर रोशनी देते हैं।

यहीं टेक्नोलॉजी की बदौलत आज सौर ऊर्जा तकनीक का इस्तेमाल शहर से लेकर गावों तक हो रहा है।

घर के कार्यों हेतू नए-नए टेक्नोलॉजी उपकरण

घर के कार्यों में काम आने वाले उपकरणों की टेक्नोलॉजी की बदौलत आज भरमार है, पुराने समय में लोग ज्यादातर मिट्टी के और लकड़ी के बने हुए उपकरण इस्तेमाल करते थे जिनमें काफी समय लगता था और और मेहनत भी काफी लगती थी। यहां तक कि उस समय में कुछ काम ऐसे होते तो जो अपने हाथों से करने पड़ते थे।

लेकिन टेक्नोलॉजी के समय में घरेलू कार्य करने के लिए अब पहले जैसी बात नहीं रही है आज के समय में एक से बढ़कर एक उपकरण उपलब्ध है जैसे कपड़े धोने की मशीन, सरफ, ओवन इंडक्शन, चूल्हा, कपड़ों का प्रेस, खाना पकाने के लिए चूल्हा आदि.

रसोई का काम आसान बनाने में उक्त दिए गए सभी प्रौद्योगिकी टेक्नोलॉजी उपकरणों का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। अब ग्रहणी वाशिंग मशीन से कपड़े धोती है जिससे उसका समय बचता है।

इलाज हेतु स्वास्थ्य परीक्षण उपकरण व दवाईयां

वर्तमान में प्रत्येक छोटी से लेकर बड़ी बीमारी की दवाइयां और स्वास्थ्य परीक्षण हेतु आधुनिक मशीन सरकारी और प्राईवेट हॉस्पिटलों में उपलब्ध है, वर्तमान समय में “टीवी, अस्थमा, प्रसवपूर्व और प्रसवबाद” के होने वाले रोग “हेपेटाईटिस, शुगर, डेंगू, मलेरिया, खसरा, चिकनगुनिया, जापानी इन्सेफेलाइटिस, कैसर, यौन रोग” जैसे रोगों का इलाज आसानी से हो जाता है। स्वास्थ्य के टेस्ट हेतु आधुनिक मशीन MRI, X-Ray, शुगर, ब्लूड टेस्ट, सर्वाइकल स्पाइन जांच की मशीन सरकारी और प्राइवेट हॉस्पिटलों में उपलब्ध है। ओर इसके अलावा “चिकित्साशास्त्र” में रोज नये नये शोध और खोजे हो रही है, उक्त सभी बीमारियों का इलाज और जांच मशीन टेक्नोलॉजी की ही देन है।

किंतु पुराने समय में इनमें से कुछ बीमारियों का इलाज नही था और ना ही “स्वास्थ्य परीक्षण जांच उपकरण” जिसके चलते पहले के समय में इन बीमारियों से काफी लोग मरे जाते थे, आज के समय में टेक्नोलॉजी उपकरण और दवाईयां उपलब्ध है इससे भारत में मृत्यु दर में भी गिरावट आई है।

सस्ते दामो में ईंधन की उपलब्धता

पुराने के समय में महिलाए मिट्टी से बने चूल्हे पर कंडो एवं लकड़ी जला कर खाना बनाती थी, इनसे निकलने वाले धुएं से उनके फेफड़ों में धुआं जमने से बीमारियों की शिकार हो जाती थी, लेकिन अब अधिकतर महिलाएं गैस के चूल्हे पर खाना पकाती है, अब उनकी मुंह , आंखों, नाक में धुआ नही भरता है, जिसके फलस्वरूप उनका स्वास्थय खराब नही होता है, नई Technology की मदद से गैस के नये भंडारों की खोज हुई है।।।

वर्तमान में गोबर ओर कचरे से भी रसोई गैस बनाने की तकनीक बनाई जाती है,, CNG GAS का इस्तेमाल CAR, AUTO, METRO CITY में भी किया जाने लगा है इसका लाभ हुआ कि वायु प्रदूषण में बहुत कमी आई है।

घर बैठे ऑनलाइन टिकट बुकिंग

Technology और Internet की वजह से आज के समय लोग यात्रा करने से एक दिन पहले ही घर बैठे Mobile से Online टिकट बुक कर लेते है,, इसके अलावा आधुनिक टेक्नोलॉजी के बदौलत ही घर बैठे Bus Ticket, Airoplane Ticket, Train Ticket बुक कर लेते हैं,, Google Play Store पर आपको ऐसे बहुत सारे App मिल जायेंगे जिनका इस्तेमाल कर आप घर बैठे ऑनलाइन सभी प्रकार के Ticket Booking के साथ साथ Train, Plain, Bus जैसे वाहनों की Location या Status का की जानकारी पता कर लेते हैं।।।

मनोरंजन के आधुनिक उपकरण

वर्तमान दौर में Technology द्वारा निर्मित मनोरंजन के आधुनिक साधनों की कमी नही है, Telivision हर किसी के घर पर होता है, जब हम दिनभर काम कर जब रात को घर जाते है तो अपना Mind थोड़ा फ्रेस करने के लिए परिवार के साथ बैठ कर टीवी देखते है, Smart Phone में आज कल सोशल मीडिया ऐप यूट्यूब, फेसबुक और वेबसाइट का इस्तेमाल कर लोग मनोरंजन करते है, Computer/Laptop में भी इंटरनेट का इस्तेमाल कर लोग अपनी पसंद के मुताबिक मनोरंजन करते है, इसमें कई लोगो को संगीत का शौक है तो कई को Sports देखने का शोक होता है। वर्तमान समय में भारत में ऐसा कोई घर नहीं होगा जिसके घर में मनोरंजन के आधुनिक उपकरण ना हो।

बातचीत हेतु आधुनिक उपकरण

वर्तमान समय में टेक्नोलॉजी का सबसे बड़ा फायदा यह भी है कि व्यक्ति अपने देश में फोन पर बात कर सकता है एक राज्य से दूसरे राज्य में वार्तालाप कर सकता है। खबरों का आदान-प्रदान होता है और जो काम फिजिकली करके करना पड़ता था वह बातचीत में ही पूरा हो जाता है।

21वी शताब्दी में हर व्यक्ति के पास स्मार्टफोन जरूर होता है चाहे वह कीपैड वाला ही क्यों ना हो ताकि जरूरत पड़ने पर किसी भी दूसरे स्थान पर बैठे व्यक्ति से आसानी से अपनी बात पहुंचा सके। जैसे-जैसे टेक्नोलॉजी का विकास होता जा रहा है वैसे-वैसे ही इन स्मार्टफोन जैसे उपकरणों का भी डेवलप होता जा रहा है आजकल तो घड़ी में भी टीवी चलने लगी है कॉल पर बात हो जाती है स्क्रीन टच घड़ी लॉन्च हो चुकी है।

टेक्नोलॉजी के फायदे कृषि जगत में

देखा जाए तो सबसे ज्यादा टेक्नोलॉजी का फायदा कृषि के क्षेत्र में किसान लोगों को मिला है। पुराने समय में बड़ी परेशानी के साथ हरजोत कर खेती तैयार की जाती थी बहुत ही कठिनाई से फसल निकल पाता था एक किसान। लेकिन जब से टेक्नोलॉजी के उपकरणों का विकास हुआ है तब से खेती करना बहुत ही आसान हो गया यह मानो कि अब खेती में न के बराबर मेहनत रही है। पुराने जमाने में लोग बैलों के द्वारा हालजोत कर खेती करते थे एवं बैलों की मदद से कुआं से मलवारा निकालते थे।

लेकिन बढ़ती हुई डिजिटल टेक्नोलॉजी ने एक ऐसे उपकरण तैयार करके दिए हैं कि अब खेती करना बहुत ही आसान हो गया है जैसे कि ट्रैक्टर, ट्राली, पंजा, हार्वेस्टर, थ्रेसर, दुक्की आदि। इसके अलावा सरकार द्वारा हर जिले में हर तहसील में कृषि कार्यालय खोल दिए हैं जहां पर अच्छे-अच्छे खाद बीजों के बारे में कौन सी फसल कैसे की जाती है उसके बारे में भी जानकारी किसानों को दी जाती है एवं कृषि करने के उपकरण भी आधी कीमत में दिए जाते हैं।

फ्री कॉलिंग एवं वीडियो कॉलिंग

टेक्नोलॉजी युक्त आज के Android Smart Phone, Computer एवं Laptop ऐसी सुविधाएं दी गई है जिनका इस्तेमाल करके कोई भी व्यक्ति फ्री में Calling कर सकता है साथ ही फ्री में Video Call भी कर सकता है, बता दें कि एक रिचार्ज के साथ आपको मुफ्त कॉलिंग और वीडियो कॉलिंग की सुविधा फ्री में प्रदान की जाती है इसका आपसे किसी प्रकार का कोई चार्ज नहीं लिया जाता है।।

प्रौद्योगिकी/Technology के अन्य फायदे

टेक्नोलॉजी की देन है कि आज बड़ी-बड़ी फैक्ट्रियों में ऐसी बड़ी बड़ी मशीनें लगाई गई है जिनके द्वारा 20 दिनों के काम को 10 दिन में तैयार कर लिया जाता है जिससे समय के साथ-साथ पैसे की भी काफी बचत होती है, रोड़ निर्माण में पहले के जमाने में एक रोड को बनाने में दो से तीन साल लगते थे आज वही रोड दो से तीन महीने में बनकर तैयार हो जाती है। पुराने समय में बड़ी पहाड़ियों को रोड निर्माण के चलते नहीं तोड़ा जाता था क्योंकि उस समय ऐसे उपकरण नहीं थे लेकिन वर्तमान समय में बड़ी बड़ी पहाड़ियों को काटकर रोड को पहाड़ियों के बीच से निकाला जाता है। क्योंकि आज हमारे पास बड़ी बड़ी क्रेन है बड़ी बड़ी JCB है, ऐसे बड़े-बड़े उपकरण मौजूद है जिनसे आसानी से रोड़ निर्माण का काम पूरा होता है।

Related – Diesel Engine aur Petrol Engine Mein Antar Kya Hai

Technology Ke Nuksan / Disadvantages of technology in Hindi

दोस्तों, Modern technology के दुष्परिणाम/नुकसान [Disadvantages of Technology] के बारे में जान लेना भी जरूरी है, अक्सर हमको टेक्नोलॉजी से बहुत सारे फ़ायदे हुए हैं तो कही न कही थोड़ा नुकसान भी हुआ है।

अगर टेक्नोलॉजी से फायदा होता है तो कहीं ना कहीं टेक्नोलॉजी से नुकसान भी होता है फायदे के बारे में हमने आपको बता दिया है अब आपको टेक्नोलॉजी से होने वाले दुष्परिणाम क्या हो सकते हैं उसके बारे में निम्न टॉपिक्स अनुसार समझ सकते हैं –

Social Media का दुरुपयोग

आज कल सोशल मीडिया पर नाबालिक नए-नए कम उम्र के मनचले लड़के सोशल मीडिया Apps Facebook, Instagram, Whatsaap और Teligram पर लड़कियों के साथ गलत id बनाकर चैटिंग करना शुरू कर देते है, जैसे जैसे लड़कियां इन पर थोड़ा भरोसा करने लगती हैं तो ये उनके फोटो और वीडियो अपने पास सेव करने लगते है, ओर फिर उनको ब्लैक मैल करते हैं। लड़कियां डर की वज़ह से अपने माता पिता को भी नही बताती है ओर इन लड़कों के कारण बहुत सी लड़कियां आत्म हत्या तक कर लेती है, ये भी टेक्नोलॉजी का एक दुष्परिणम है।

Android Phone/Laptop में खतरनाक जानलेवा Game

तकनीक के समय में एंड्रॉयड स्मार्टफोन एवं कंप्यूटर में एक से बढ़कर एक नए नए खतरनाक जानलेवा गेम्स आ गए हैं जिनको नाबालिक बच्चे खेलने लग जाते हैं, कुछ गेम ऐसे भी है जिसे काफी बच्चों की जान चली गई जैसे की ब्लू व्हेल। ब्लू व्हेल के अलावा और भी बहुत सारे ऐसे खून खराब है एवं मारधाड़ वाले गेम है जिनकी वजह से बच्चे पढ़ाई नहीं करते हैं और इन्हीं गेम में लिप्त हो जाते हैं गेम में हारने की वजह से बहुत सारे बच्चे डिप्रेशन में चले जाते हैं और कुछ बच्चे आत्महत्या कर लेते हैं, इंटरनेट पर मौजूद कुछ खतरनाक गेम भी टेक्नोलॉजी का एक दुष्परिणाम है।

Android Phone/Laptop पर अश्लील छाया चित्र वीडियो होना

बढ़ती टेक्नोलॉजी के चलते आज कल ऑनलाइन पढ़ाई का प्रचलन है, जिसके चलते माता पिता अपने बच्चों को बिना सोचें समझे महंगा वाला मोबाइल फ़ोन या कंप्यूटर दिला देते हैं, लेकिन मां बाप ध्यान नही देते तो कुछ बच्चे ऑनलाइन अश्लील वीडियो देखने लग जाते है ये भी टेक्नोलॉजी का एक दुष्परिणम यानि नुकसान है।

Online Cyber Crime एवं Froad का बढ़ना

वर्तमान में हर व्यक्ति का Bank में Account जरूर होता है और आजकल तो किसानों भी अकाउंट बना हुआ है लेकिन कुछ फ्रॉड लोग गांव के भोले भाले लोगों को Bank Manager बनकर कॉल करते हैं बोलते है कि आपके बैंक अकाउंट में सरकार द्वारा राशि आई है जो डालना है आप हमको आपके मोबाइल पर एक OTP आएगा वह बता दीजिए ऐसा बोलकर वह भोले भाले लोगों का पूरा पैसा बैंक से उड़ा देते हैं यह भी टेक्नोलॉजी का ही एक दुष्परिणाम/नुकसान है।

इसके अलावा टेक्नोलॉजी का एक नुकसान यह भी है कि Paytm , Phonepe या MSG के जरिए कुछ फ्रॉड लोग आपके पास एक Link भेजते हैं और उसे लिंक पर अगर आप अपनी कोई पर्सनल जानकारी भर के सबमिट कर देते हैं उसे तरीके से भी आपके बैंक अकाउंट से पैसे उड़ा दिए जाते हैं। कुछ लोग आपके एटीएम कार्ड का ही से क्लोन एटीएम कार्ड बनाकर पैसा चुरा लेते हैं।

टेक्नोलॉजी से गंभीर बीमारियों के शिकार

आजकल हर व्यक्ति मोबाइल फोन का इस्तेमाल जरूरत से ज्यादा करने लगा है, अधिक समय तक मोबाइल फोन या कंप्यूटर के प्रयोग से सर्वाइकल स्पाइन, दिमागी बीमारी, ब्रेन ट्यूमर जैसी खरतनाक बीमारियों के शिकार हो रहे है जिसके कारण कुछ लोग अपनी जान तक गवा चूके है ।मानशिक बीमारियां बढ़ने का वजह टेक्नोलॉजी ही है, लोग एक दूसरे से मिलने, बात करने से ज्यादा Internet की दुनिया में रहना अधिक पसंद करते है, जिसका कोई अस्तित्व नही है, इसी वजह से मानवों के सम्बंध खराब होते जा रहे है, मोबाइल फ़ोन या कंप्यूटर से रेडिएशन से निकलने वाली तरंगे हमारी आंखों और दिमाग पर बुरा असर डालती है.

अगर स्मार्ट फोन का अधिक प्रयोग करने के साथ साथ अधिक समय तक अपनी जेब में रखने से उसकी रेडिएशन घातक बीमारियाँ फैला सकती है, इस रेडिएशन से कैंसर जैसी भयानक बिमारी फ़ैल रही है.

टेक्नोलॉजी का शिक्षा पर दुष्प्रभाव/नुकसान

बदलती टेक्नोलॉजी के साथ साथ जहा एक तरफ कुछ विद्यार्थी ऑनलाइन मोबाइल फोन या कंप्यूटर से घर बैठे पढ़ाई कर रहे है लेकिन इसके विपरीत टेक्नोलॉजी के उपकरण मोबाइल फोन या कंप्यूटर पर कुछ बच्चे दिन भर पढ़ाई करने की जगह Social Media Websites पर इंटरटेनमेंट करते हैं सारे दिन स्मार्टफोन में गेम्स, चैटिंग या वीडियो कॉल में लगे रहते है, बच्चे स्मार्टफोन पर अपना टाइम खराब कर देते है जिसके कारण वे पढ़ाई पर ध्यान नहीं दे पाते है, माता पिता की बातो को मोबाइल फोन चलाने के चक्कर में ध्यान नही देते और धीरे धीरे अपनी आदत खराब कर लेते है.

Technology के प्रकार

टेक्नोलॉजी कभी भी एक प्रकार के नहीं होती है टेक्नोलॉजी के अनेक प्रकार होते हैं अगर आप टेक्नोलॉजी के प्रकारों के बारे में जानते हैं तो अच्छी बात है अगर नहीं जानते तो निम्न अनुसार आपको टेक्नोलॉजी के प्रकार में बताया गया है नीचे पढ़ सकते हैं –

  • Architecture Technology.
  • Space Technology.
  • Internet of Things. Information Technology.
  • artificial intelligence technology.
  • Robotics Technology.
  • Biotechnology.
  • Nano Technology.
  • 3D Printing Technology.

FAQ,s

टेक्नोलॉजी कितने प्रकार के होते हैं?

आर्किटेक्चर टेक्नोलॉजी.
स्पेस टेक्नोलॉजी.
इंटरनेट ऑफ थिंग्स.इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी.
कृत्रिम बुद्धिमत्ता टेक्नोलॉजी.
रोबोटिक्स टेक्नोलॉजी.
बायोटेक्नोलॉजी.
नेनो टेक्नोलॉजी.
थ्री डी प्रिंटिंग टेक्नोलॉजी.

टेक्नोलॉजी के फायदे क्या है?

• इंटरनेट जैसी डिजीटल तकनीक का विकास
• तकनीकी शिक्षा का ऑनलाइन विकास
• उजाले के लिए आधुनिक बल्ब
• घर के कार्यों हेतू नए-नए टेक्नोलॉजी उपकरण
• इलाज हेतु स्वास्थ्य परीक्षण उपकरण व दवाईयां
• सस्ते दामो में ईंधन की उपलब्धता
• घर बैठे ऑनलाइन टिकट बुकिंग
• मनोरंजन के आधुनिक उपकरण
• बातचीत हेतु आधुनिक उपकरण
• टेक्नोलॉजी के फायदे कृषि जगत में
• फ्री कॉलिंग एवं वीडियो कॉलिंग

टेक्नोलॉजी से क्या नुकसान है?

• Social Media का दुरुपयोग
• Android Phone/Laptop में खतरनाक जानलेवा Game
• Android Phone/Laptop पर अश्लील छाया चित्र वीडियो होना
• Online Cyber Crime एवं Froad का बढ़ना
• टेक्नोलॉजी से गंभीर बीमारियों के शिकार
• टेक्नोलॉजी का शिक्षा पर दुष्प्रभाव/नुकसान

शिक्षा में टेक्नोलॉजी का क्या महत्व है?

पुराने समय में शिक्षा प्राप्त करने का एक मात्र साधन था पाठशाला। पुराने समय में स्कूल जाए बिना पढ़ाई करना संभव ही नहीं था। लेकिन जब से इंटरनेट जैसी टेक्नोलॉजी विश्व में आई है तब से ऑनलाइन शिक्षा का काफी हद तक विकास हुआ है। टेक्नोलॉजी के विकास से इंटरनेट के चलते वर्तमान समय में पढ़ने वाले स्टूडेंट एक देश से दूसरे देश में या एक राज्य से दूसरे राज्य में घर बैठे कोचिंग ले लेते हैं और अच्छे नंबरों से बड़े-बड़े एग्जाम में पास हो रहे हैं। यह सब टेक्नोलॉजी और इंटरनेट की देन है, कि आज ऑनलाइन घर बैठे भी पढ़ाई की जा सकती है। वर्तमान समय में ऑनलाइन सुरक्षा ग्रहण करने का मुख्य प्लेटफार्म Youtube, Facebook और एजुकेशन वाली Website है जहां पर विद्यार्थी घर बैठे कोचिंग कर सकता है। युटुब फेसबुक पर वेबसाइट इनमें से कुछ ड्रेसों में से जो फ्री में कोचिंग उपलब्ध करवाते हैं और कुछ में बहुत ही कम फीस ली जाती है।

टेक्नोलॉजी में क्या क्या आता है?

जनरेटर, इन्वेटर, इलेक्ट्रिक उपकरण, इंटरनेट, हवाईजहाज, बुलेट ट्रेन, मेट्रो ट्रेन, स्मार्ट फोन, कीपैड मोबाइल, टेबलेट, रेफ्रीजरेटर, इन्डकशन चूल्हा, ओवन, मिक्सर ग्राइंडर, दवाईयां, स्वास्थ परिक्षण हेतु आधुनिक मशीन जैसे कि – MRI जांच मशीन, कंप्यूटर, प्रिंटर, मोबाइल फोन, सोशल प्लेटफार्म (Youtube, Facebook) कैमरा, इंटरनेट, बिजली, पंखा, हीटर, रूम हीटर, रोशनी बल्ब, AC, वाशिंग मशीन, प्रेस, हाथ की सिलाई मशीन, चमक धमक हेतु कॉलर बल्ब, पानी की इलेक्ट्रिक मोटर, टेलीफोन, STD, एंड्रॉयड फोन, टेलीविजन, सिनेमा, साइकिल, मोटर साईकिल, कार, ट्रेन, ब्लड प्रेशर जांच मशीन, ब्लड टेस्ट, X Rey इत्यादि।।

निष्कर्ष [Conclusion] –

“टेक्नोलॉजी क्या है, एवं इसके फायदे और नुकसान क्या है के बारे में उक्त जानकारी बताई गई,, दोस्तों हमको टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल मानव जाति के कल्याण के लिए करना चाहिए न कि नुकसान पहुंचाने के लिए। इसके अलावा लेख में ‘टेक्नोलॉजी का अर्थ’ क्या होता है, टेक्नोलॉजी का सही मतलब क्या होता है, हमने टेक्नोलॉजी के प्रकारो के बारे में भी जानकारी बताई है।

मुझे लगता है कि इतना लेट पढ़ने के बाद में आपको टेक्नोलॉजी के फायदे दुष्परिणाम एवं उसके प्रकार तथा टेक्नोलॉजी का प्रयोग कहां करना चाहिए कहां नहीं करना चाहिए अच्छी तरह समझ में आ गया होगा। अगर आपको आर्टिकल अच्छा लगा तो अपने सभी मित्रों रिश्तेदारों सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर शेयर अवश्य करें।

keshav Barkule
keshav Barkulehttps://hindimeindia.com
Mera Naam keshav B. Barkule। Mein Hindimeindia.com Blog Ka Owner Hun। Hindi Me india Blog Par Technology, Software, Internet, Computer, Blogging, Earn Money Online Evam Education Se Related Latest Information Dete Hai.

Share post:

Subscribe

spot_imgspot_img

Popular

More like this
Related

How to free make money online – ऑनलाइन पैसे कैसे कमाएं.

ऑनलाइन पैसे कमाने के कई तरीके हैं। यहां कुछ...

Front End Developer – कैसे बने इन 2024.

2024 में फ्रंट एंड डेवलपर कैसे बनें Front End Developer...

Email ID कैसे बनाये.

ईमेल आईडी बनाने के लिए निम्नलिखित चरणों का पालन...

SEO कैसे करे और अपने ब्लॉग की ट्रैफिक बढ़ाये?

एक beginning जो नया नया blogging कर रहा है...