साइबर अपराध क्या हैंं, बचाव के उपाय और प्रकार क्या हैंं? What is Cyber Crime in Hindi 

Date:

क्या आप जानते हैंं साइबर अपराध क्या होता हैंं, सायबर अपराध या साइबर क्राइम से बचाव के उपाय क्या हैंं, अगर नही जानते कि Cyber Apradh {Cyber Crime} Kya Hota Hai, Cyber Apradh/Crime Se Bachav Ke Upay Kya Hai तो कोई बात नहीं, आज हम आपको बताएंगे कि What is cyber crime, what are its prevention measures and types in Hindi के बारे में पूरी इनफार्मेशन हिंदी में|

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

हेलो दोस्तों! Hindi Me India ब्लॉग पर आपका वेल कम हैंं| इस हिंदी आर्टिकल में ‘साइबर अपराध/क्राइम क्या हैंं, साइबर अपराध/क्राइम से बचाव के उपाय और प्रकार क्या हैंं?’ {What is Cybercrime, what are the types and ways of prevention from Cybercrime?} कि जानकारी बताई गई हैंं|

साइबर अपराध/क्राइम के बारे में “साइबर अपराध/क्राइम कैसे होता हैंं, साइबर अपराध/क्राइम से बचने के उपाय क्या हैंं, साइबर अपराध/क्राइम के प्रकार क्या हैंं” के बारे में जानने की इच्छा आपके दिमाग में भी जरूर आती होगी लेकिन सही जानकारी नही मिलने के अभाव में आप साइबर Crime के बारे में नही जान पाते हैंं|

आज दुनिया/विश्वभर में फैले इंटरनेट {अंतराजाल} नेटवर्क और चारो ओर फैले सूचनाओं के भंडार की आड़ लेकर ही साइबर अपराध/क्राइमी साइबर अपराध/क्राइम को अंजाम देते हैंं| सीधे सीधे शब्दों में बताए तो आज की दुनिया/विश्व पूरी तरह इंटरनेट पर निर्भर हैंं और पूरी तरह Digital हो चुकी हैंं समय के साथ बदलती टेक्नॉल्जी के साथ हमको भी बदलना आवश्यक हैंं अगर हम नई Technologyके साथ नही बदलेंगे तो साइबर अपराध/क्राइमी गैर – कानूनी तरीके से हमारे साथ अपराध करते रहेंगे|

अब हर व्यक्ति/इंसान एंड्रॉयड Mobile का इस्तेमाल करता हैंं और करीब 30% लोग Computer और Laptop का इस्तेमाल अपने निजी कार्यों में या ऑफिस के कार्यों के लिए इस्तेमाल करते हैंंं जो एक अच्छी बात हैंं, लेकिन क्या कभी आपने ये सोचा हैंं कि हम इंटरनेट के द्वारा Mobile और Computer चलाते हैंं उसकी सुरक्षा कैसे की जाती हैंं, इन उपकरणों का इस्तेमाल करना आसान हैंं, लेकिन इनकी सुरक्षा करना काफी मुस्किल हैं। आज आपको उक्त सभी समस्याओं का समाधान इस आर्टिकल में होने वाना हैंं, चलिए आज का Cyber Crime आर्टिकल शुरू करते हैंं|

साइबर अपराध क्या हैंं?

इंटरनेट का इस्तेमाल कर Computer, Laptop या Mobile के द्वारा किया गया कानून विरुद्ध कार्य या अपराध को साइबर अपराध/क्राइम कहते हैंं|

साईबर क्राइम को आप ऐसा भी कह सकते हो कि जब एक व्यक्ति/इंसान Mobile, Computer में इंटरनेट का इस्तेमाल कर किसी दूसरे व्यक्ति/इंसान के साथ छल कपट या धोखाधड़ी कर गैर-कानूनी तरीके कार्य को अंजाम देता हैंं तो उस व्यक्ति/इंसान द्वारा किया गया कार्य साइबर अपराध/क्राइम कहलाता हैंं ओर ऐसे कार्य करने वाले व्यक्ति/इंसान को साइबर अपराध/क्राइमी कहते हैंं|

Cyber Crime में आपके Mobile या Computer नेटवर्क या डाटा को छती पहुंचना या फिर आपके नेटवर्क या डाटा का इस्तेमाल कर Online किसी दूसरे गैर-कानूनी कार्य को अंजाम देना रहता हैंं|

Related – टेक्नोलॉजी के फायदे और नुकसान Advantages and Disadvantages of Technology in Hindi

साइबर अपराध के प्रकार

साइबर अपराध/क्राइम के प्रकार निम्नानुसार हो सकते हैंं –

Identity Theft~

यह अपराध आज काफी ज्यादा दिखने को मिलता हैंं| आज कल न्यूज़ पेपरों में आप पढ़ते होंगे| आज कल लोग Bank जाने की अपेक्षा Online Transaction करते हैंं जिसमे आप कोई Transaction एप या Bankो की Online सर्विस का इस्तेमाल करते हैंंं |
ऐसे क्राइम मे, साइबर अपराध/क्राइमी कोई ना कोई गैर-कानूनी तरीके से Online आपका पर्सनल डाटा जैसे आपके लेनदेन प्लेटफार्म का Login id या Password, Personal Information, इंटरनेट Banking Details, Credit Card Details, Debit Card Details चुरा लेता हैंं, और आपकी निजी जानकारी का इस्तेमाल कर Online प्लेटफार्म पर वस्तु खरीद लेते हैंंं| इस अवस्था में सादिमागे वाले व्यक्ति/इंसान के अकाउंट से पैसा कट जाता हैंं और एक भारी हानि झेलना पड़ता हैंं|

Child Ponografy~

ऐसे अपराध में अपराधी खुद Identity छुपाकर फ्रॉड ID बनाकर Chat Room का इस्तेमाल करते हैंं और सादिमागे वाले को धोखे में रखकर बातचीत करते हैंंं. इसमें छोटे बच्चो को या नाबालिको को इतनी समझदारी नहीं होती ऐसी इस्तिथि में अपराधी बच्चो को डराते धमकाते हैंं लेकिन बच्चे माता पिता के डर से ये बात घर वालो या माता पिता को नही बताते हैंं| और एब्यूजर्स के शिकार हो जाते हैंं|

Theft~

ऐसे अपराध तब बनता हैंं जब कोई एक व्यक्ति/इंसान दूसरे व्यक्ति/इंसान का कॉपीराइट सामग्री बिना उसकी इजाजत के गैर-कानूनी तरीके से फ्री में इस्तेमाल करता हैंं|

Cyber Stalking~

यह एक ऐसा साइबर अपराध/क्राइम होता हैंं जिसमे Online Social Media प्लेटफार्म के द्वारा Massage या ईमेल कर Blackmail करता हैंं| ऐसे अपराध में ज्यादातर बच्चो को परेशान कर ब्लैकमेल किया जाता हैंं|

Malicios Software~

ऐसा कोई App या Software जिसका बिना जानकारी के अपने Computer या Mobile Phone में डाउनलोड कर इंस्टॉल कर लेते हैंं तो साइबर अपराध/क्राइमी हमारे सिस्टम की सारी इनफॉर्मेशन बड़ी आसानी से चुरा सकते हैंं या बिगाड़ {Damage} सकते हैंं|

Hacking~

ऐसे अपराध में Hackers किसी दूसरे के निजी Computer या Mobile मे निजी जानकारी को गैर-कानूनी तरीके से बिना इजाजत के देखते और चुराते रहते हैंंं| ऐसी इस्तिथि में सादिमागे वाले व्यक्ति/इंसान को पता भी नही चलता कोई उसकी information निकलता {acces} रहता हैंं|

SIM Card Cloning~

सिम कार्ड क्Loanिंग सायबर क्राइम का एक नया तारिका साइबर अपराध/क्राइमियों ने अपनाया हैंं| सिम कार्ड क्Loanिंग मैं साइबर अपराध/क्राइमी सिम कार्ड विक्रेता एजेंटों से संपर्क कर या फिर किसी दूसरे बहाने से Mobile को अपने हाथ में लेकर चोरी से या धोखे पूर्वक सिम को किसी उपकरण द्वारा कॉपी कर लेना यानी डुप्लीकेट सिम बना लेना सिम क्Loanिंग के कहलाता हैंं| यह एक ऐसा साइबर अपराध/क्राइम का प्रकार हैंं जिससे साइबर अपराध/क्राइमी बिना कोई ओटीपी प्राप्त किए हुए आपके Bank अकाउंट से पैसा निकाल सकता हैंं|

Related – इंस्टाग्राम पर सबसे ज्यादा/अधिक फॉलोवर्स किसके है? । Most Followers On Instagram in Hindi 

साइबर अपराध कैसे होता हैंं और किन परिस्थितियों में हो सकता हैंं?

  • Mobile या Computer में इंटरनेट का इस्तेमाल कर किसी व्यक्ति/इंसानगत या सरकार की आर्थिक संपत्ति संबंधित आर्थिक अपराध {Financial froud} करना|
  • डिवाइस में ऐसा वायरस पहुंचना जिससे आपकी डाटा को नुकसान पहुंचाया जा सकता हैंं|
  • आपके नेटवर्क को आपकी जानकारी के बिना गलत कार्यों इस्तेमाल करना जो गैर-कानूनी हो|
  • आपके निजी या किसी प्राइवेट या किसी शासकीय कार्यों में इस्तेमाल होने वाले Computer, Laptop या Mobile Phone के जीमेल/ईमेल {Gmail/Email} पर ऐसे मेल करना जिस पर आप गलती से क्लिक करते हैंं या कोई गलती से इस्तेमाली मेल समझ कर पर्सनल जानकारी देने की स्थिति में साइबर अपराध/क्राइम होने की संभावना हो सकती हैंं|
  • इंटरनेट की मदद से सोशल साइट्स पर गैर-कानूनी फोटो या ऐसी भ्रांतियां फैलाना से भी साइबर क्राइम हो सकता हैंं|
  • Mobile Phone में किसी Bank के नाम से या किसी सरकारी योजना के नाम से Massage में कोई फ्रॉड लिंक शेयर करना भी साइबर अपराध/क्राइम होता हैंं|
  • किसी फ्रॉड वेबसाइट द्वारा असली वेबसाइट्स से मिलता जुलता नाम रख पब्लिक को Online फ्राउड करना भी Cyber Crime कहलाता हैंं|
  • PhonePe, गूगल pay, Paytm का इस्तेमाल करते हैंं तो आपके पास फ्रॉड पेमेंट नोटिफिकेशन भेजा जाता हैंं आपकी Mobile स्क्रीन पर Pay और Later का ऑप्शन आएगा अगर आपने Pay पर क्लिक कर अपना Password इंटर कर दिया तो आपको आर्थिक छती पहुचाई जा सकती हैंं| इस प्रकार गैर-कानूनी तरीके से भेजे गए नोटिफिकेशन साइबर अपराध/क्राइम की श्रेणी में आते हैंंं|
  • किसी Bank के नाम से आपके पास कोई Massage या कॉल के द्वारा आपके अकाउंट में कोई जानकारी परिवर्तन करने के नाम से या कोई सरकारी योजना के नाम से की आपके अकाउंट में पैसा आया हैंं अगर आप लेना चाहते हैंं तो आपसे आपके ATM नंबर लेना या CVV नंबर मांग कर आपके Bank अकाउंट से पैसा गायब कर सकते हैंंं| उक्त गैर-कानूनी तरीके से किया गया कार्य भी साइबर अपराध/क्राइम हैंं|
  • Social Site Apps जैसे Watsaap, Facebook, Twitter, Teligram, इंस्टाग्राम पर फ्रॉड नाम या फ्रॉड ID बना कर गैर-कानूनी तरीके से किया गया ऐसा कार्य जो आपको आर्थिक छती या आपके ID को हैंंक करने का प्रयास या आपके चाट पर कोई ऐसी लिंक सेंड करना जो आपके डाटा चुराने या आपके डाटा को नुकसान पहुंचाने का कार्य करे| इस तरह इंटरनेट द्वारा किया गया कृत्य भी साइबर अपराध/क्राइम कहलाता हैंं|
  • कोरोना वैक्सीन लगवाने के नाम पर आपके Mobile पर आया कोई गैर-कानूनी तरीके का Massage जिसकी लिंक पर क्लिक कर जानकारी देने पर भी साइबर क्राइम हो सकता हैंं|

Related – IP Address क्या होता है, आईपी एड्रेस कैसे पता करे? -What is IP Address in Hindi

साइबर अपराध से बचने के उपाय Measures to avoid cybercrime in Hindi?

दोस्तो अगर आप साइबर क्राइम से बचना चाहते हो तो इंटरनेट सुरक्षा या साइबर सुरक्षा के बारे में नॉलेज होना बहुत जरूरी हैंं| Cyber Crime से बचने के लिए कुछ तरीके हैंंं अगर आप सीख लेते हैंं तो यकीनन मानिए आपके साथ कभी भी कोई साइबर Crime नही हो सकता| चलिए साइबर से बचने के लिए साइबर सुरक्षा को निमानुसार समझते हैंंं –

  1. अपनी Gmail/Email id का Password कही पर ना लिखे और ना ही कोई Mobile Notepad App पर लिखें| ID Password हमेशा याद रखें|
  2. समय समय पर अपनी ID का Password बदलते रहे|
  3. लॉगिन यूजरनेम और Password भी गोपनीय रखे|
  4. Mobile Phone और Laptop में Antivirus रखें जो समय समय पर ऑटोमैटिक वायरस को नष्ट करता रहता हैंं|
  5. Mobile या Computer किसी दूसरे व्यक्ति/इंसान को बेचने से पहले गूगल Account मे जाकर अपनी ID Remove जरूर करें|
  6. अनजान Massage लिंक या Mobile पर आए नोटिफिकेशन पर बिना जानकारी के क्लिक ना करे उसे remove कर दे|
  7. दिमागी ट्रांसफर एप जैसे SBI नेटBanking, Phone Pay, गूगल Pay व अन्य जो भी आप इस्तेमाल करते हो काम होने पर तुरंत Logout करे|
  8. Loan , कौन बनेगा करोड़पति, आप मोटर साइकिल जीते हैंंं ऐसे लालच भरे कॉल के चक्कर में ना पड़े ऐसे फ्रॉड नंबर को तुरंत Block करे|
  9. गूगल पर बहुत सी छोटी और बडी कंपनियों के नाम के फ्रॉड Toll Free Number होते हैंं आपको बिना जानकारी के ऐसे नम्बर पर अपनी कोई जानकारी शेयर नही करना हैंं| टॉलफ्री नंबर पाने का सबसे अच्छा तारिका हैंं कि आप संबंधित कंपनी की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं और वहां से टोल फ्री नंबर प्राप्त करें|
  10. अपने Mobile फ़ोन की सर्च हिस्ट्री भी समय समय पर Remove करते रहें|
  11. कॉल पर किसी भी सरकारी योजना या Bank के नाम से आए फ्रॉड कॉल से सावधान रहें| जल्दबाजी और ऐसे कॉल पर विश्वास करना मतलब आपका डेटा चोरी हो सकता हैंं जैसा कि आज कल हो रहा हैंं|

Related – Top 10 Best Ludo Game Apps in Hindi -शीर्ष 10 सर्वश्रेष्ठ लूडो गेम ऐप्स। लूडो गेम खेलकर पैसे कमाए?

FAQ,s

साइबर क्राइम क्या हैंं?

इंटरनेट का इस्तेमाल कर Computer, Laptop, Mobile के द्वारा किया कानून विरुद्ध कार्य या अपराध को साइबर अपराध/क्राइम कहते हैंं|

साइबर अपराध क्या हैंं?

जब एक व्यक्ति/इंसान Mobile, Computer में इंटरनेट का इस्तेमाल कर किसी दूसरे व्यक्ति/इंसान के साथ छल कपट या धोखाधड़ी कर गैर-कानूनी तरीके कार्य को अंजाम देता हैंं तो उस व्यक्ति/इंसान द्वारा किया गया कार्य साइबर अपराध/क्राइम कहलाता हैंं| ऐसा अपराध करने वाले व्यक्ति/इंसान को सायबर अपराधी कहते हैंं|

साइबर अपराध के प्रकार क्या हैंं?

1~ Identity Theft
2~ Child Ponografy
3~ Theft
4~ Cyber Stalking
5~ Malicios Software
6~ Hacking

निष्कर्ष –

दोस्तों हमे पूरी उम्मीद हैंं कि हमारे ब्लॉग Hindi Me India यह आर्टिकल साइबर अपराध/क्राइम क्या हैंं, साइबर अपराध/क्राइम से बचाव के उपाय और प्रकार क्या हैंं? जरूर अच्छा लगा होगा। हम यही प्रयास करते हैं कि यूजर्स को अच्छे से अच्छे आर्टिकल को अच्छे से रिसर्च करके जानकारी प्रदाय की जाएं ताकि पाठकों को दूसरे साइट या इन्टरनेट में उस लेख से संदर्भ में खोजने की जरूरत नही हैंं।

अगर आपको सायबर अपराध क्या होता है, सायबर अपराध से बचाव के उपाय आर्टिकल से संबंधित कोई भी प्रश्न हो तो हमे बताए।।

keshav Barkule
keshav Barkulehttps://hindimeindia.com
Mera Naam keshav B. Barkule। Mein Hindimeindia.com Blog Ka Owner Hun। Hindi Me india Blog Par Technology, Software, Internet, Computer, Blogging, Earn Money Online Evam Education Se Related Latest Information Dete Hai.

Share post:

Subscribe

spot_imgspot_img

Popular

More like this
Related

How to free make money online – ऑनलाइन पैसे कैसे कमाएं.

ऑनलाइन पैसे कमाने के कई तरीके हैं। यहां कुछ...

Front End Developer – कैसे बने इन 2024.

2024 में फ्रंट एंड डेवलपर कैसे बनें Front End Developer...

Email ID कैसे बनाये.

ईमेल आईडी बनाने के लिए निम्नलिखित चरणों का पालन...

SEO कैसे करे और अपने ब्लॉग की ट्रैफिक बढ़ाये?

एक beginning जो नया नया blogging कर रहा है...